ट्विटर डील पर घमासान जारी, आमने-सामने आए एलन मस्क और सीईओ पराग अग्रवाल

ट्विटर के सीईओ (CEO) पराग अग्रवाल और एलन मस्क ट्विटर डील को लेकर आमने-सामने आ गए हैं। हालांकि, इससे पहले भी दोनों के बीच तकरार की खबरें सामने आई है, लेकिन इस बार यह क्लेश ट्वीट्स में भी देखने को मिल रहा है। हाल ही में एलन मस्क ने बॉट और स्पैम अकाउंट्स की वजह से ट्विटर डील को होल्ड पर रख दिया था और बाद में एक रैंडम टेस्ट कराने की भी बात कही थी।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। ट्विटर के सीईओ (CEO) पराग अग्रवाल और एलन मस्क ट्विटर डील को लेकर आमने-सामने आ गए हैं। हालांकि, इससे पहले भी दोनों के बीच तकरार की खबरें सामने आई है, लेकिन इस बार यह क्लेश ट्वीट्स में भी देखने को मिल रहा है।

हाल ही में एलन मस्क ने बॉट और स्पैम अकाउंट्स की वजह से ट्विटर डील को होल्ड पर रख दिया था और बाद में एक रैंडम टेस्ट कराने की भी बात कही थी।

लेकिन शायद इस बीच पराग का धैर्य भी जवाब दे गया है तभी उन्होंने एलन मस्क को टारगेट कर एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने बताया कि माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट पर स्पैम अकाउंट पिछले चार क्वार्टर से 5 परसेंट से अंदर हैं। ये उनका इंटरनल एस्टिमेट है।

अग्रवाल ने कहा कि ट्विटर का एस्टिमेट साल 2013 से एक ही तरह का है। उसे एक्सटर्नली रिप्रोड्यूस नहीं किया जा सकता है। कोई अकाउंट स्पैम है इसके लिए पब्लिक और प्राइवेट दोनों जानकारी की जरूरत होती है।

आपको बता दें, पिछले महीने 26 अप्रैल को 44 बिलियन डॉलर में ट्विटर खरीदने वाले टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने ट्विटर डील को बॉट और स्पैम अकाउंट्स की वजह से होल्ड पर रख दिया है।

पराग के इस लंबे-चौड़े ट्वीट के जवाब में मस्क ने ‘Poo’ इमोजी पोस्ट किया। इसके बाद मस्क ने लिखा फिर एडवरटाइजर को कैसे पता चलेगा उन्हें उनके पैसों के बदले क्या मिल रहा है। ये ट्विटर के फाइनेंशियल हेल्थ के लिए फंडामेंटल है।

इस ट्वीट के बाद मस्क ने एक प्राइवेंट कॉन्फ्रेंस में बताया कि उन्हें संदेह कि बॉट्स या ऑटोमैटेड अकाउंट्स लगभग 20 से 25 परसेंट हैं। इसके लेकर एक अटेंडी ने ट्वीट किया। उन्होंने आगे कहा कि वह ट्विटर खरीदने के बाद इसमें कई बदलाव करने वाले हैं। वह पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प पर लगे बैन को भी हटाना चाहते हैं।