रेमडेसिवीर इंजेक्शन ब्लैक करते चार आरोपी गिरफ्तार, आरोपियों में एक डॉक्टर भी

आरोपियों ने बताया कि उन्होंने लाइफ लाइन मेडिकल स्टोर पर काम करने वाले एक युवक से इंजेक्शन लिए थे। पुलिस गिरफ्तार आरोपियों से कड़ी पूछताछ कर रही है।  

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना (Corona) के इलाज में महत्वपूर्ण रोल प्ले करने वाले रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) की व्यवस्था करने में जहाँ सरकार जुटी है वहीँ इसकी कालाबाजारी करने वाले हालात का फायदा उठाने में पीछे नहीं हैं। भोपाल की क्राइम ब्रांच ने ऐसे चार लोगों को पकड़ा है जो रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) ब्लैक में बेच रहे थे, बड़ी बात ये है कि आरोपियों में एक डॉक्टर भी शामिल है।

रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) की उपलब्धता मांग की तुलना में कम होने का फायदा अब ब्लैक मार्केटिंग करने वाले लोग उठाने लगे हैं।  प्रदेश के कई जिलों से रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) की कालाबाजारी की ख़बरें सामने आ रही हैं। अब राजधानी भोपाल से भी रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) ब्लैक करने की खबर आई है।  क्राइम ब्रांच को मुखबिर ने इसकी सूचना दी थी जिसके बाद क्राइम ब्रांच ने कारर्वाई करते हुए रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) की कालाबाजारी करने वाले को 4 आरोपियों को रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) के साथ गिरफ्तार कर लिया ।

ये भी पढ़ें – मप्र में कोरोना से स्थिति बेकाबू, 24 घंटे में मिले रिकॉर्ड 12,248 पॉजिटिव, 66 की मौत

खास बात ये है कि आरोपियों में एक डॉक्टर भी शामिल है।  पुलिस ने आरोपियों के पास से 4 इंजेक्शन और 24 हज़ार नगदी जब्त किये हैं। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वे 12 से 18 हजार रुपये में रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) बेच रहे थे। आरोपियों ने बताया कि उन्होंने लाइफ लाइन मेडिकल स्टोर पर काम करने वाले एक युवक से इंजेक्शन लिए थे। पुलिस गिरफ्तार आरोपियों से कड़ी पूछताछ कर रही है।

ये भी पढ़ें – मप्र के वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी