गणेश भारद्वाज/भिंड। मध्य प्रदेश सरकार में नंबर दो माने जाने वाले कद्दावर मंत्री डॉक्टर गोविंद सिंह का दर्द सामने आया है। दरअसल भिंड जिले के आलमपुर में शासकीय महाविद्यालय के लोकार्पण समारोह में उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी के सामने सामान्य प्रशासन मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने सरेआम मंच कहा कि कॉलेज के प्रिंसिपल कैसे हैं जिन्हें मैंने लाख समझाने की कोशिश की ,सुधारने के लाख प्रयासों के बावजूद भी यह सुधरने की नाम ही नहीं लेते हैं और कहना भी नहीं मानते हैं। इतना ही नहीं, मंत्री जी ने मंच से मांग की कि उच्च शिक्षा मंत्री या तो इन्हें आलमपुर से हटा दें या अपने साथ भोपाल ले जाएं।

मंत्री जी के साथ साथ छात्राओ से भी जब उच्च शिक्षा मंत्री ने सीधी बात की तो कुछ छात्राओं ने कॉलेज से किताबें न मिलने की शिकायत की जिस पर मंत्री जीतू पटवारी ने कॉलेज के प्रिंसिपल की जमकर खिंचाई की। यह शिकायत भी सामने आई कि कॉलेज का स्टाफ समय पर नहीं पहुंचता। इतना ही नहीं, शासकीय महाविद्यालय में लगाई गई गांधीजी की प्रतिमा की गुणवत्ता को लेकर भी मंत्री जीतू पटवारी ने प्राचार्य की जमकर फटकार लगाई। अब स्थानीय मंत्री की शिकायत के बाद इतना तो तय है कि प्राचार्य पर जल्द ही गाज गिरने वाली है।