BJP के इस कद्दावर नेता को हिंदू महासभा ने दिया सदस्यता ग्रहण करने का आमंत्रण

अनूप मिश्रा का कहना है कि इसपर मेरा कोई कमेंट्स बनता ही नहीं है वे आंदोलन का समर्थन पत्र सौंपने आये थे उन्होंने मुझे दिया मैंने रख लिया अब उसमें उन्होंने अंदर क्या लिखा है मुझे क्या पता?

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के भांजे, भाजपा (BJP) के कद्दावर नेता, पूर्व मंत्री पूर्व सांसद अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) को हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) ने बुधवार को उनके दल में शामिल होने का आमंत्रण दे कर सनसनी पैदा कर दी। हालाँकि पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) ने कहा कि हिन्दू महासभा ने सब्जी विक्रेताओं का समर्थन पत्र मुझे सौंपा था उसमें उन्होंने नीचे क्या लिखा है मुझे नहीं मालूम। सदस्यता के सवाल पर पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) ने कहा नो कमेंट।

गोडसे विवाद के चलते पिछले कुछ महीनों से राजनीति के गलियारों में सुर्खियां बटोर रही हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) ने ऐसा ही एक और काम किया है। हिंदू महासभा (Hindu Mahasabha) ने आज बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) दिग्गज नेता, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के भांजे, पूर्व मंत्री एवं पूर्व सांसद अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) को अपनी पार्टी में शामिल होने का आमंत्रण दे दिया।

दरअसल दिग्गज भाजपा (BJP) नेता अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) आज बुधवार को लक्ष्मीगंज थोक सब्जी मंडी के विस्थापन का विरोध कर रहे सब्जी विक्रेताओं के समर्थन में धरने पर बैठे थे। इसी दौरान हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) के नेता संभागीय अध्यक्ष पवन गुप्ता के नेतृत्व में वहां पहुंचे उन्होंने अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) को धरना स्थल पर ही सार्वजानिक रूप से आंदोलन के समर्थन का पत्र सौंपा और और लिखा कि अखिल भारत हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) आपके द्वारा किए जा रहे आंदोलन का पूर्ण समर्थन करती है। पत्र के आगे लिखा कि राष्ट्रहित , जनहित में आपसे आग्रह करते हैं कि आप अखिल भारत हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) की सदस्यता ग्रहण कर हिन्दू महासभा का नेतृत्व करें।

ये खबर राजनीति के गलियारों में तेजी से फैली, हिन्दू महासभा ने भी इसे खूब प्रचारित किया। हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) ने नेताओं ने कहा कि भाजपा की सरकार के खिलाफ अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) आंदोलन कर रहे है , वे सब्जी विक्रेताओं का समर्थन कर रहे हैं हिन्दू महासभा भी सब्जी विक्रेताओं के साथ है ऐसे में यदि अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) हिन्दू महासभा की सदस्यता ग्रहण करते हैं तो उनका ये कदम राष्ट्रहित और जनहित में होगा।

ये  भी पढ़ें – Promotion: मध्यप्रदेश में अब इन पुलिसकर्मियों को मिली पदोन्नति, बनाए गए DSP

हिन्दू महासभा के नेताओं ने दावा किया कि पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) ने उनका आमंत्रण पत्र स्वीकार कर लिया है , इसके प्रमाण में पार्टी ने अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) द्वारा पत्र दिखाते हुए एक फोटो भी मीडिया को भेजा है। हालाँकि अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) ने एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए इन सब बातों को बे बुनियाद बताया है और सदस्यता वाली बात पर नो कमेंट्स कहा है। अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) का कहना है कि इसपर मेरा कोई कमेंट्स बनता ही नहीं है वे आंदोलन का समर्थन पत्र सौंपने आये थे उन्होंने मुझे दिया मैंने रख लिया अब उसमें उन्होंने अंदर क्या लिखा है मुझे क्या पता? पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) ने कहा कि मुझे किसी को ये बताने की आवश्यकता भी नहीं है कि मैं कट्टर भाजपाई हूँ। भारतीय जनता पार्टी (BJP) मेरी मां है और मैं जहाँ हूँ वहीँ हूँ।

ये भी पढ़ें – Gwalior में महाराष्ट्र, इंदौर, भोपाल से आने वालों के घर के बाहर लगेंगे पोस्टर, पांच गुना हो सकता है जुर्माना

गौरतलब है कि हमेशा सही को सही और गलत को गलत कहने वाले पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) गलत बात पर अपनी सरकार के खिलाफ बोलने से भी नहीं हिचकिचाते।  वे पिछले कई अवसरों पर विरोध प्रदर्शन कर या अपने बयानों से इस बात को प्रत्यक्ष रूप से बता भी चुके हैं। जिससे कयास लगाए जा रहे हैं अनूप मिश्रा (Anoop Mishra) पार्टी से नाराज चल रहे हैं। सब्जी विक्रेताओं के समर्थन में उतरना और प्रशासन के खिलाफ मुखर होकर बोलना इसी कड़ी का एक हिस्सा है। बहरहाल हकीकत चाहे जो भी हो हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) ने मौका देखकर चौका मारकर सुर्खियां बटोरने का काम जरुर किया है।