Commonwealth Games 2022 : बैडमिंटन में भारत को करना होगा रजत पदक से संतोष, मलेशिया ने दी 3-1 से मात

फाइनल में सिर्फ भारतीय स्टार शटलर पीवी सिंधु ही अपना मुकाबला जीत सकी।

खेल, डेस्क रिपोर्ट। गत चैंपियन भारत को यहां बैडमिंटन के मिक्स्ड इवेंट फाइनल में मलेशिया के हाथों 3-1 से हार का सामना करना पड़ा। इसी के साथ डिफैंडिंग चैंपियन को अब रजत पदक से संतोष करना पड़ेगा। फाइनल में सिर्फ भारतीय स्टार शटलर पीवी सिंधु ही अपना मुकाबला जीत सकी। फाइनल के पहले मुकाबले में सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी को मलेशिया के आरोन चिया और सोह वूई यिक ने 18-21, 15-21 से मात दी।

इसके बाद पीवी सिंधु ने गोह जिन वी को 22-20, 21-17 से मात देकर स्कोर 1-1 कर भारत की वापसी कराई लेकिन पुरुष एकल मुकाबले में एनजी तजे योंग ने किंदाम्बी श्रीकांत को 21-19, 6-21, 21-16 से वहीं महिला युगल मुकाबले में मुरलीधरन थिनाह और कूंग ले पर्ली तन की जोड़ी ने त्रेसा जॉली और गायत्री गोपीचंद की जोड़ी को 21-18, 21-16 से मात देकर भारत से गोल्ड मेडल छीन लिया।

बता दे, इससे पहले भारत ने चिर-प्रतिद्वंदी पाकिस्तान और श्रीलंका को 5-0 वहीं ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका को क्रमशः 4-1 और 3-0 से और सेमीफाइनल में सिंगापुर को 3-0 से मात देकर फाइनल में पहुंचा था।

आपको बता दे, इस मेडल के साथ भारत के कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में कुल मेडल 13 मेडल हो गए है। भारतीय महिला लॉन बॉल्स टीम के ऐतहासिक स्वर्ण के साथ-साथ पुरुषों की टेबल टेनिस टीम ने भारत का पांचवां स्वर्ण जीता। वेइटलिफ्टर विकास ठाकुर ने 96 किग्रा वर्ग में एक रजत और जोड़ा और भारत के लिए कुल 12 पदक कर दिए, जिसमें 5 स्वर्ण, 5 रजत और 3 कांस्य पदक पदक शामिल है।