MP Board: 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षार्थियों को मिली राहत, मंत्री इंदर सिंह परमार का बड़ा बयान

10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) 12 अप्रैल को जिला कलेक्टरों की बैठक के बाद ही अंतिम निर्णय लेंगे।

mp board

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में कोरोना (corona) के बढ़ते संक्रमण के बीच छात्रों को बड़ी राहत दी गई है। जहां MP Board 10वीं और 12वीं के बोर्ड परीक्षार्थियों की प्री बोर्ड परीक्षा (pre board exam) को स्थगित कर दिया गया है। कोरोना के बढ़ते ग्राफ को देखते हुए प्री बोर्ड परीक्षा नहीं लेने का निर्णय लिया गया है। इस मामले में स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार (indar singh parmar) ने कहा कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्री बोर्ड की परीक्षा को फिलहाल स्थगित करने की तैयारियां की जा रही है।

बता दें कि MP Board 10वीं और 12वीं बोर्ड की प्री बोर्ड परीक्षा 12 अप्रैल 2021 को आयोजित होनी थी। लेकिन कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार का बड़ा बयान सामने आया है। जहां उन्होंने प्री बोर्ड परीक्षा नहीं कराए जाने की बात कही है। स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार के बयान के बाद संभावना जताई जा रही है कि जल्द ही इस मामले में स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा आदेश जारी किए जा सकते हैं।

Read More: Indore: बीते 24 घंटे में 800 का महाआंकड़ा, 3 की मौत, LOCKDOWN के मुहाने पर इंदौर!

इससे पहले 12 अप्रैल से होने वाली प्री बोर्ड परीक्षा के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई थी। वही परीक्षा केंद्र बढ़ाने की बात की जा रही थी। ताकि परीक्षा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन किया जा सके। वही लगातार बढ़ रहे केसों को देखते हुए प्री बोर्ड की परीक्षा आयोजित कराना संभव नहीं लग रहा है। जिसके बाद 10वीं और 12वीं के अब सीधे वार्षिक परीक्षा में भाग लेंगे। वही 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) 12 अप्रैल को जिला कलेक्टरों की बैठक के बाद ही अंतिम निर्णय लेंगे।

बता दें कि इससे पहले दसवी और बारवी बोर्ड परीक्षा के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई है। परीक्षार्थियों को शारीरिक दूरी पालन करने के लिए परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इसके साथ ही 500 मीटर के दायरे में अनुपूरक परीक्षा केंद्र भी बनाए जा सकते हैं। वही परीक्षा केंद्र में प्रवेश से पहले परीक्षार्थियों को सैनिटाइज किया जाना अनिवार्य होगा।