MP उपचुनाव: मंत्री अरविंद भदौरिया बोले- कमलनाथ बीजेपी नेताओं को फोन करके दे रहे ऑफर

भदौरिया ने कहा कि आदमी पैसे से ज्यादा सम्मान का भूखा होता है। जहाँ उसे सम्मान नहीं मिलता वह वहां से निकल जाता है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। चुनावी नतीजे आने से पूर्व पार्टियों का एक दूसरे पर आरोप लगाने का सिलसिला जारी है। एक तरफ जहां राजनीतिक पार्टिया बड़े-बड़े दावे कर रही है। वहीं दूसरी तरफ नेताओं के मजे भी ले रहे हैं। इसी बीच अब सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया (Cooperative Minister Arvind Bhadoria) ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Former Chief Minister Kamal Nath) और दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) पर निशाना साधा है। अरविंद भदौरिया ने कहा है कि उपचुनाव में प्रदेश में हर हाल में भाजपा (bjp) की ही सरकार बनेगी। इसके साथ ही उन्होंने कमलनाथ पर आरोप लगाते हुए कहा कि कमलनाथ द्वारा हमारे विधायकों को फोन कर कांग्रेस ने शामिल होने के लिए कहा जा रहा है।

दरअसल सोमवार को पत्रकार से बात करते सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ एग्जिट पोल देखकर आगे का अंदेशा लगा चुके हैं। जिसके बाद वह बीजेपी नेताओं को फोन कर रहे हैं। कमलनाथ बीजेपी नेताओं से कह रहे हैं कि वह कांग्रेस में शामिल हो जाए। साथ ही भदौरिया ने कहा कि उसके बाद हमने भी बीजेपी नेताओं से कह दिया कमलनाथ के ऑफर के बाद उनके मजे ले लो। कांग्रेस के पास अब कोई गणित नहीं रह गया है। हमारे पास 105 विधायक पहले से मौजूद थे। पांच पहले और 2 और आ गए। इसके साथ ही निर्दलीय और बसपा (BSP) विधायकों का समर्थन भी बीजेपी के साथ है। हम अपनी जीत को लेकर आश्वस्त हैं। प्रदेश में कल बीजेपी की सरकार फिर से बन रही है।

यह भी पढ़े: MP Politics : उमा भारती का बड़ा बयान- मेरा मूड होगा वहां से लडूंगी चुनाव

अरविंद भदौरिया ने दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस कंप्यूटर बाबा (computer baba) और मिर्ची बाबा (mirchi baba) जैसे लोगों को संरक्षण देने का कार्य करती है यही कंप्यूटर बाबा ने दिग्गी राजा के लिए ऐसा हवन किया था कि दिग्गी राजा की आंखें और कलेजे दोनों जल गए। वही भदोरिया ने कहा कि क्या ऐसे बाबाओं से राजनीति चलेगी?

इसी के साथ विधायकों के जोड़-तोड़ पर बोलते हुए अरविंद भदौरिया ने कहा कि कांग्रेस (congress) के विधायक अपनी मर्जी से भाजपा में शामिल हुए हैं। किसी भी विधायक को कोई ऑफर नहीं दिया गया। सभी लोग अपने आत्मसम्मान की वजह से पार्टी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए हैं। इसी के साथ भदौरिया ने कहा कि आदमी पैसे से ज्यादा सम्मान का भूखा होता है। जहाँ उसे सम्मान नहीं मिलता वह वहां से निकल जाता है।

यह भी पढ़े: सरकार में रहते जिस संभाग में कभी नहीं आये, अब वहां कमलनाथ को कोई लाभ नहीं मिलेगा: भदौरिया

दूसरी तरफ अरविंद भदौरिया ने कहा कि बीजेपी एसी में बैठकर राजनीति नहीं करती। बीजेपी का एक-एक कार्यकर्ता जनता के बीच जाता है। उनके परेशानियों से अवगत होता है और जनता से सीधे तौर पर जुड़ता है। आज के दौर में बंद कमरे में राजनीति संभव हो ही नहीं सकती है।

बता दें कि मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव में  3 नवंबर को हुए मतदान के बाद कल मंगलवार को परिणाम घोषित किए जाएंगे। शाम तक प्रदेश की स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। इससे पहले नेताओं का एक दूसरे पर आरोप लगाने का सिलसिला जारी है। वहीं दूसरी तरफ कल आने वाले परिणाम में यह देखना दिलचस्प है की कमलनाथ की सत्ता में वापसी होती है या शिवराज सरकार प्रदेश में परमानेंट हो जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here