नए साल के पहले दिन जाने क्यों Twitter पर ट्रेंड कर रहा #एमपी_में_जंगलराज

एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने 30 दिसंबर को एक बयान जारी किया है जिसमें वह कह रहे हैं कि मंदसौर की एक मस्जिद पर हमला किया गया है।

भोपाल,डेस्क रिपोर्ट। आज विश्व भर में नए साल (New Year) का जश्न (Celebration) मनाया जा रहा है, वहीं अगर वर्चुअल वर्ल्ड (Virtual World) की बात की जाए तो उसमें नई साल के जश्न की जगह एमपी में जंगलराज (Jungleraj in MP) ट्रेंड कर रहा है। ऐसा क्या हुआ मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में जो ट्विटर पर एमपी में जंगलराज ट्रेंड करने लगा। अब तक ट्विटर पर इस को लेकर 121k ट्वीट (Tweet) किए जा चुके है और यह इंडिया में टॉप पर ट्रेंड कर रहा है। अब सवाल ये उठता है कि ऐसा क्या हुआ है मध्य प्रदेश में जो यह ट्रेंड चल रहा है।

दरअसल हैश्टैग एमपी में जंगलराज के साथ ट्विटर (Twitter) पर एक वीडियो शेयर किया जा रहा है, जिसमें  मस्जिद (Mosque) के पास कुछ लोग भगवा झंडा लेकर खड़े हुए है और नारेबाजी कर रहे है। इस वीडियो में  आश्चर्य की बात यह है वहीं पास में पुलिस की गाड़ी भी खड़ी हुई है। शेयर हो रहे वीडियो के बारे में लोग कह रहे हैं कि यह इंदौर (Indore) के चंदनखेड़ी का है। इंदौर का चंदन खेड़ी हाल ही में चर्चा का विषय बना था क्योंकि यहां हिंदू संगठन द्वारा राममंदिर निर्माण (Ayodhya Ram Temple Construction) के धनसंग्रह को लेकर रैली निकाली गई थी, जिस पर विशेष समुदाय के लोगों ने पथराव किया था। एमपी ब्रेकिंग वायरल हो रहे वीडियो की सत्यता पुष्टि नहीं करता है।

वहीं कुछ लोगों का मानना है कि यह वीडियो मंदसौर (Mandsaur) का है। वही इस वीडियो को लेकर प्रशासनिक स्तर पर कोई पुष्टि नहीं की गई है। लेकिन एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ( AIMIM Chief Asaduddin Owaisi) ने 30 दिसंबर को एक बयान जारी किया है जिसमें वह कह रहे हैं कि मंदसौर की एक मस्जिद पर हमला किया गया है।

 

बता दें कि बीते कुछ दिनों से अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर के लिए धनराशि का संग्रह किया जा रहा है। इसी धनराशि संग्रह के दौरान मध्य प्रदेश के 2 शहर इंदौर और उज्जैन में हिंदू संगठनों द्वारा रैली निकाली गई थे। जिसमें विशेष समुदाय के लोगों द्वारा पथराव किया गया था। पहले रैली पर पथराव का मामला उज्जैन शहर के बेगम बाग से आया था और उसके कुछ दिन बाद ही इंदौर के चंदन खेड़ी में उज्जैन जैसी स्थिति पैदा हुई थी। वही उज्जैन और इंदौर में हुए पथराव पर प्रशासन ने तुरंत एक्शन लेते हुए कार्रवाई की थी प्रशासन द्वारा पत्थरबाजों के घर तोड़ दे गए थे।

#एमपी_में_जंगलराज पर लोगों की प्रतिक्रिया