भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आज प्रदेश भर में एक बार फिर स्वास्थ्य व्यवस्था (Health system) प्रभावित हो सकती है। इसका कारण है संविदा स्वास्थ्य कर्मियों (Contract health workers) को सरकार से खफा होकर हड़ताल पर जाना। दरअसल आज प्रदेश के संविदा स्वास्थ्यकर्मी प्रदर्शन करेंगे। प्रदर्शन के दौरान वह सरकार के सामने नियमितीकरण सहित कई अन्य मांग रखने वाले हैं।

दरअसल नियमितीकरण सहित अन्य मांगों को लेकर व कई दिनों से सरकार से मांग कर रहे हैं। वहीं कुछ दिन पहले ही उन्होंने सरकार को चेतावनी दी थी कि मांग नहीं मांगे जाने पर वह अनिश्चितकालीन हड़ताल पर भी जाएंगे। इसके बाद आज सोमवार को सभी संविदा स्वास्थ्यकर्मी राजधानी भोपाल में एकत्रित हो रहे हैं। जहां वह नियमितीकरण समेत कई मांगों को लेकर प्रदर्शन करेंगे। इसके साथ ही राजधानी भोपाल के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (National Health Mission) के सामने विरोध प्रदर्शन करेंगे। इतना ही नहीं अधिकारियों की सद्बुद्धि के लिए यज्ञ भी किया जाएगा।

Read More: बीजेपी नेता का निधन, पार्टी में शोक की लहर, चुनाव में निभाई थी महत्वपूर्ण भूमिका

बता दें कि प्रदेश भर के 19000 से ज्यादा संविदा स्वास्थ्य कर्मी नियमितीकरण और 2018 से शुरू हुई संविदा नीति के लागू करने की सरकार से मांग कर रहे हैं। इतना ही नहीं स्वास्थ्य कर्मी द्वारा कई बार धरना प्रदर्शन भी किया गया लेकिन सरकार की तरफ से इनकी मांगों पर कोई विशेष ध्यान नहीं दिए गए। इसके बाद आज राजधानी भोपाल के नेहरू मैदान से काफिला निकलकर एनएचएम के दफ्तर पहुंचेगा और वहां धरना प्रदर्शन करेगा।

ज्ञात हो कि मध्य प्रदेश संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के अध्यक्ष डॉ सुनील यादव ने कहा था कि संविदा स्वास्थ्य कर्मी को नियमित नहीं किया गया और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन मध्यप्रदेश के सपोर्ट स्टाफ को आउटसोर्स देने की कार्यवाही नहीं रोकी गई तो संविदा स्वास्थ्य कर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे। वहीं उन्होंने कहा था कि पहले चरणबद्ध तरीके से विरोध दर्ज कराए जाएंगे लेकिन सरकार द्वारा पक्ष नहीं माने जाने पर अब कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं।