प्रदेश में 1 अप्रैल से नहीं खुलेंगे स्कूल! सीएम शिवराज ने दिए संकेत

बढ़ते पॉजिटिव केस पर बड़ा बयान देते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि 23 मार्च से प्रदेश में कोरोना के लिए अभियान चलाया जाएगा।

शिवराज सरकार

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में कोरोना (corona) के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए अब स्कूलों (mp school) के खोलने पर संशय की स्थिति बन गई है। मध्य प्रदेश में 1 अप्रैल से स्कूल नहीं खुलेंगे। इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) ने आज संकेत दिए हैं। दरअसल मीडिया से चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश में जैसे कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं। लगातार कोरोना केस समय बढ़ोतरी हो रही है। ऐसी परिस्थिति में स्कूल को खोला जाना सही नहीं है।

दरअसल मध्यप्रदेश में एक बार फिर से कोरोना मामले में तेजी देखी गई है। जिसके बाद प्रदेश के तीन प्रमुख शहर भोपाल, इंदौर और जबलपुर में 31 मार्च तक स्कूल ना खुलने का फैसला लिया गया है। वहीं इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्कूल खोलने को लेकर बड़ा बयान देते हुए कहा था कि यदि संक्रमण की रफ्तार यही रही तो स्कूल खोलने के निर्णय पर पुनर्विचार किया जाएगा।

बता दें कि स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार द्वारा नए सत्र से 1 से 8वीं तक के स्कूल खोलने की बात कही गई थी। जिसके बाद आदेश के 2 दिन बाद स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार (indar singh parmar) का बड़ा बयान सामने आया था। जहां उन्होंने कहा था कि 1 अप्रैल से स्कूल खोलने को लेकर स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा एक रिव्यु मीटिंग (review meeting) भी किया जाएगा। जहां स्कूलों के प्राचार्य और शिक्षकों को बुलाया जाएगा और सभी पहलुओं पर विचार करके एक बार फिर से निर्णय लिया जाएगा।

बीते दिनों मध्यप्रदेश में संक्रमण के 1300 नए मामले सामने आए हैं जबकि स्कूल कॉलेज में भी छात्र छात्राओं के पॉजिटिव होने की खबर सामने आ रही है। प्रदेश के 2 स्कूलों से 4 छात्राओं के पॉजिटिव होने की बात सामने आई थी। जिसके बाद सीएम शिवराज ने रविवार को टोटल लॉकडाउन की घोषणा की थी। वही अब एक बार फिर से सीएम शिवराज ने प्रदेश में स्कूल खोलने को लेकर पुनर्विचार की बात कही है।

23 मार्च से प्रदेश में कोरोना के लिए अभियान चलाया जाएगा- सीएम शिवराज

वही बढ़ते पॉजिटिव केस पर बड़ा बयान देते हुए सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने कहा कि 23 मार्च से प्रदेश में कोरोना के लिए अभियान चलाया जाएगा। जहां सभी शहरों में सायरन (सायरन ) बजाया जाएगा। वही सुबह 11:00 बजे 2 मिनट के लिए जो जहां खड़ा है। वही रुकेगा। वही मास्क (mask) पहनने के संकल्प लिए जाएंगे।

Read More: Indore News: युवक को शराब तस्करी में फंसाया, वसूले 1 लाख रुपए, 2 पुलिसकर्मी गिरफ्तार

मेरी होली-मेरे घर का नारा दिया जा सकता है- सीएम शिवराज

इतना ही नहीं सीएम शिवराज ने कहा कि वह खुद सोशल डिस्टेंसिंग के मार्क और गोले बनाने के लिए निकलेंगे। जबकि शाम 7:00 बजे शहरों में दोबारा सायरन बजेगा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कल क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में होली को लेकर भी बैठक की जाएगी। जहां मेरी होली-मेरे घर का नारा दिया जा सकता है। बढ़ते संक्रमण में होली बाहर नहीं खेली जाएगी।