भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में लगातार मौसम (MP Weather) के मिजाज बदलते दिखाई दे रहे है। जैसे जैसे नवंबर (November) का महिना बीतता जा रहा है वैसे वैसे मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में ठंड का असर तेज होता जा रहा है।लगातार दिन और रात के पारे में गिरावट दर्ज की जा रही है। खास करके ग्वालियर, भोपाल, इंदौर और जबलपुर में तेजी से तापमान (Temperature) में गिरावट देखने को मिल रही है।शनिवार को भोपाल (Bhopal) में न्यूनतम तापमान 10.5 डिग्री सेल्सियस तक जा पहुंचा, यह दो साल में पहला ऐसा नवंबर था जब पारा लुढका हुआ हो।

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में शनिवार-रविवार (Saturday-Sunday) की रात अब तक की सबसे सर्द रही। यहां तापमान डेढ़ डिग्री सेल्सियस गिरकर 10.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। दो साल पहले 2018 में नवंबर में सबसे सर्द रात 11.4 डिग्री सेल्सियस और 2017 में न्यूनतम तापमान 9.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा था। इसके साथ ही इंदौर (Indore), ग्वालियर (Gwalior) और जबलपुर (Jabalpur) में भी शनिवार की रात के तापमान में गिरावट दर्ज की गई। इंदौर में 3 डिग्री की गिरावट देखने को मिली। इस वजह से रविवार को न्यूनतम तापमान 12.7 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं अधिकतम तापमान सामान्य से 5 डिग्री कम 25 डिग्री दर्ज किया गया। रविवार (Sunday) को प्रदेश में रात का सबसे कम तापमान नौगांव में 7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। प्रदेश के 13 स्थानों पर न्यूनतम तापमान 7 से 10 डिग्री के बीच रहा।

मौसम विभाग (Weather Department) की माने तो अगले दो दिन तक ठंड के तेवर तीखे बने रहने की संभावना जताई है।अभी दो दिन तक हवा का रुख उत्तरी और उत्तर-पूर्वी बना रहने की संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ अगले 2 से 3 दिन में जम्मू कश्मीर पहुंचेगा, जिससे बर्फबारी होते ही प्रदेश में कड़ाके की ठंड शुरू होने की संभावना है।  उत्तर पूर्वी हवाएं राजस्थान से होकर इंदौर और मध्य प्रदेश में आ रही हैं। इस वजह से ठंड का असर दिखाई दे रहा है। अभी अरब सागर और बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) में कम दबाव के क्षेत्र बने हुए हैं इसके कारण वहां से नमी आ रही है।

मौसम विभाग (Weather Department) की माने तो 22 नवम्बर (November) के बाद मौसम में बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है।आने वाले दिनों में पश्चिमी मध्य प्रदेश में चक्रवात (Cyclone) बनने के कारण बादल और बारिश (Rain) की संभावना बन सकती है।

इन राज्यों में हो सकती है बारिश
IMD आईएमडी की माने तो जम्मू कश्मीर से लेकर गिलगित, बालटिस्तान, मुजफ्फराबाद, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड 22 से 25 नवंबर के बीच कुछ इलाकों में हल्की से मध्यम और कहीं तेज़ वर्षा व बर्फबारी की गतिविधियां देखने को मिल सकती हैं।वही महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड में हल्की वर्षा के आसार हैं। केरल, तमिल नाडु में छिटपुट वर्षा का अनुमान है।