MPPSC 2020: मुख्य परीक्षा में हुए यह महत्वपूर्ण बदलाव, उम्मीदवारों को मिलेगा लाभ

आयोग द्वारा अब इस फॉर्मेट में बदलाव किया गया है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (Madhya Pradesh Public Service Commission) ने उम्मीदवारों की शिकायत के बाद बड़ा निर्णय लिया है। राज्य सेवा की मुख्य परीक्षा के लिए एमपीपीएससी (MPPSC) ने उत्तर पुस्तिका के फॉर्मेट (Format) को बदल दिया है। इसके साथ ही प्रैक्टिस के लिए पीएससी ने नए प्रारूप का नमूना भी जारी किया है।

दरअसल उम्मीदवारों की शिकायत थी कि मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग ने प्रश्नों के उत्तर लिखने के लिए उत्तर पुस्तिका में जगह कमजोरी है। उम्मीदवार 100 शब्दों वाले उत्तरों को लेकर परेशान नजर आ रहे थे। इसके बाद मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग ने निर्णय लिया है।

Read More: MPPEB: ग्रुप 2 सबग्रुप 4 भर्ती परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी, यहां से करें डाउनलोड

बता दें कि पीएसी की परीक्षा में प्रश्न पत्र अलग से उपलब्ध कराए जाते थे। वही कॉपी अलग से दी जाती थी लेकिन इस साल नए फॉर्मेट को जारी करते हुए पीएससी ने प्रश्न और उत्तर पुस्तिका को एक कर दिया था। जिसमें प्रश्न को देखकर उसके नीचे उत्तर लिखने के लिए खाली जगह छोड़ी जाएगी।

वही प्रश्न पत्र में 3 अंकों के अति लघु उत्तरीय प्रश्न में भी 50 शब्दों में उत्तर देने होंगे। जिसके लिए पुस्तिका में 4 लाइन छोड़ी गई है। वहीं 6 अंकों वाले लघु उत्तरीय प्रश्न के लिए 100 शब्दों में जवाब लिखना होगा। इसके लिए 11 लाइनें दी गई है। वहीं 15 अंक वाली दीर्घ उत्तरीय प्रश्न के लिए 300 शब्दों में उत्तर देने होंगे। इसके लिए 3 पन्नों की खाली जगह दी गई है। ऐसे में उम्मीदवारों की शिकायत थी कि 100 शब्दों में लिखने वाले उत्तर के लिए 11 लाइन पर्याप्त नहीं है। जिसको लेकर उम्मीदवार चिंतित नजर आ रहे थे। आयोग द्वारा अब इस फॉर्मेट में बदलाव किया गया है।