Munger : दुर्गा प्रतिमा को विसर्जन के लिए के जाते समय हुआ पुलिस के साथ लोगों का विवाद, हुई लाठीचार्ज

मुंगेर (munger) पुलिस ने दावा किया कि भीड़ को तितर-बितर करने के लिए उन्हें हवा में गोली चलानी पड़ी, जिसके बाद कुछ लोगों ने जवाबी गोलीबारी कर दी, जिसके कारण उन्हें कार्रवाई करनी पड़ी

बिहार, डेस्क रिपोर्ट। मुंगेर( munger) नवरात्र के अंतिम दिन दुर्गा विसर्जन के दौरान देरी को लेकर हुए बवाल के बाद पुलिस द्वारा गोली चलाने के बाद एक व्यक्ति की मौत हो गई। वही पंडाल आयोजकों और पुलिस के बीच हुई झड़प में लगभग 30 लोग घायल हो गए।

जनकारी के अनुसार पुलिस ने 26 अक्टूबर की मध्यरात्रि 25 से अधिक मूर्तियों को विसर्जित करने पर जोर दिया। जिसके विरोध में कई आयोजकों ने आपत्ति जताते हुए पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। इस पथराव में संग्रामपुर, कोतवाली और कासिम बाजार के थाना प्रभारी सहित लगभग 20 पुलिस कर्मी घायल हो गए। इस दौरान पुलिस ने कुछ जिंदा और खाली कारतूस के साथ तीन देसी पिस्तौल बरामद किए है।

 

पुलिस ने दावा किया कि भीड़ को तितर-बितर करने के लिए उन्हें हवा में गोली चलानी पड़ी, जिसके बाद कुछ लोगों ने जवाबी गोलीबारी कर दी, जिसके कारण उन्हें कार्रवाई करनी पड़ी।

पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में जिस युवक की मौत हुई है उसकी पहचान स्थानीय निवासी अनुराग पोद्दार (25) के रूप में हुई है। वही चार स्थानीय निवासी भी घायल हुए है। इस मामले को लेकर मुंगेर के एसपी लिपी सिंह ने कहा कि घटना में 26 पुलिसकर्मी भी घायल हुए है। इस घटना में शामिल लोगों की पहचान के लिए वीडियो फुटेज निकली जा रही है। वही एसपी ने कहा कि आगे कोई अप्रिय घटना न हो इसके लिए पर्याप्त बल तैनात किए गए है। उन्होंने बताया कि मामले में करीब 30 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।

घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, लोजपा नेता चिराग पासवान ने कहा कि भक्तों पर खुली गोलीबारी नीतीश कुमार सरकार के तालिबानी शासन को दिखाती है। उन्होंने जिम्मेदार पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही है। सीपीआई नेता कन्हैया कुमार ने भी इस घटना के बारे में ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने भी पुलिस कर्मियों के खिलाफ पूछताछ कर कार्रवाई करने का आह्वान किया है।

वही हिंसा का एक वीडियो साझा करते हुए, कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा है कि, “क्या बीजेपी-जेडीयू सरकार दुर्गा उपासकों को जानवरों की तरह पालेगी? क्या बीजेपी-जेडीयू सरकार दुर्गा मूर्ति विसर्जन के लिए लोगों को मार देगी। जी हां, ये चित्र बिहार के मुंगेर की है, जहां पहले पुलिसवालों ने आम जनता पर लाठीचार्ज किया और फिर उन पर गोली चलाई।”

मुंगेर में बुधवार को पहले चरण का मतदान होना है, वही दुर्गा मूर्ति विसर्जन के दौरान हुए हिंसा के बाद सभी मतदान केंद्रों पर पुलिस की तैनाती बढ़ा दी गई है।