कांग्रेस मौन धरना : नरोत्तम मिश्रा का तंज- पहले आलू से सोना अब ट्रैक्टर का खिलौना

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की स्थापना एक बाहरी ने की थी। आज देश में कांग्रेस विसर्जन की स्थिति में है तो मुमकिन है राहुल गांधी तर्पण के लिए इटली गए हो।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। विधानसभा तक ट्रैक्टरों पर प्रतिबंध लगने के बाद कांग्रेस (congress) अब किसान हित में मौन धरना करने जा रही है। कांग्रेस स्थापना दिवस के मौके पर विधानसभा (Assembly) पहुंचकर मौन धरना दे रहे हैं जहाँ कमलनाथ ट्रैक्टर का खिलौना लेकर पहुंचे हैं। इसको लेकर प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (narottam mishra) ने कांग्रेस पर निशाना साधा है।

दरअसल कमलनाथ के खिलोने के ट्रैक्टर के साथ विधानसभा पहुँचने पर बोलते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि 55 वर्ष के बालक को रिझाने के लिए मध्यप्रदेश के वयोवृद्ध कमलनाथ (kamalnath) ने जो खिलौना खोजा है। उसे शायद राजकुमार इटली (italy) से जल्दी वापस लौट आए। इसके साथ ही मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पहले राहुल बाबा को खुश करने के लिए आलू से सोना बनाया जा रहा था। अब उनको मनाने के लिए ट्रैक्टर का खिलौना लेकर कमलनाथ विधायकों के साथ विधानसभा पहुंचे हैं।

वही मौन धरना पर बोलते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि किसानों के साथ दगाबाजी करने वाले लोग आज उनके पक्ष में मौन धरना दे रहे हैं। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि यह मौन धरना कांग्रेसी महात्मा गांधी (mahatma gandhi) से अपनी गलती की माफी मांगने के लिए कर रहे हैं।

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि राहुल गांधी ने यह वचन दिया था कि अगर 10 दिन में किसानों का कर्जा माफ नहीं किया जाएगा तो मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बदल देंगे। आज वैसे लोग धरना देने जा रहे हैं। मध्यप्रदेश में धोखे से जीत कर आए लोग आज किसानों के हित में धरना देने के प्रयास कर रहे हैं तो निश्चित ही वो महात्मा गांधी से अपनी गलती की माफी मांगना चाहते हैं।

Read More: राहुल गांधी के इस ट्वीट पर मचा बवाल, उठी माफ़ी मांगने की मांग

विसर्जन की स्थिति में कांग्रेस 

वहीं कांग्रेस के स्थापना दिवस पर राहुल गांधी के विदेश भ्रमण पर बोलते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि बचपन में सभी नानी घर जाते हैं लेकिन राहुल गांधी ने 55 की उम्र में साबित कर दिया कि वह अब भी बचपन में ही है। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष किसानों की लड़ाई बीच में छोड़कर इटली चले गए। कांग्रेस के स्थापना दिवस के मौके पर निशाना साधते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की स्थापना एक बाहरी ने की थी। आज देश में कांग्रेस विसर्जन की स्थिति में है तो मुमकिन है राहुल गांधी तर्पण के लिए इटली गए हो।

गुटबाजी और मतभेद कांग्रेस की संस्कृति

वहीं प्रदेश की सियासत में कांग्रेस सार्वजनिक रूप से अपने मुद्दे सड़कों पर लेकर आ रही है। जिस पर बोलते हुए पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि गुटबाजी और मतभेद कांग्रेस की संस्कृति रही है। पहले यह बंद कमरे में हुआ करते थे अब यह सार्वजनिक रूप से हो रहे हैं और आगे भी होते रहेंगे। बता दें कि पिछले दिनों यही बात कांग्रेसी बीजेपी में शामिल हुए बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी कही थी।

बंगाल चुनाव पर बोलते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि ममता सरकार ने बंगाल कई सालों से शोषण किया है और अब अपने निर्मम राज बचाने के लिए चाहे ममता सरकार कुछ भी कर ले लेकिन जनता ने बदलाव का मन बना लिया है। पश्चिम बंगाल इस बार के चुनाव में नई कहानी लिखेगा।