गुजरात : बीएमडब्ल्यू नहीं तो विदाई नहीं, बिना दुल्हन के वापस लौटी बारात

दूल्हे पक्ष ने आरोप लगाया हैं कि दुल्हन पक्ष के लोगों ने शराब पी रखी थी और वो जिद पर अड़ गए कि जब तक बीएमडब्ल्यू मंडप तक नहीं आएगी वो अपनी बेटी की विदा नहीं करेंगे, जिसके बाद दूल्हे पक्ष के लोगों ने उन्होंने समझाने की कोशिश की और कहा कि रास्ता छोटा होने के कारण बीएमडब्ल्यू कार मंडप तक नहीं आ पाएगी।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। आपने बहुत बार सुना होगा कि दुल्हन की विदाई इसलिए नहीं हो सकी क्योंकि लड़केवालों ने अंतिम समय पर दहेज की मांग कर दी लेकिन गुजरात से एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है, जहां इस बार लड़की पक्ष ने दूल्हा पक्ष के सामने अपनी डिमांड रखी और जब वो डिमांड पूरी नहीं हुई तो अपनी बेटी की विदाई नहीं की।

दरअसल, दूल्हा गुजरात स्थित आणंद के नापाडवांटा के गांव में अपने परिवार के साथ शादी करने के लिए पहुंचा, जहां रात में शादी की सारी रस्म खुशी-खुशी पूरी हुई और सुबह दुल्हन की विदाई की तैयारियां चल रही थी, लेकिन इस दौरान दुल्हन और दूल्हा पक्ष के बीच बीएमडब्ल्यू (BMW) कार को लेकर विवाद हो गया। परिणामस्वरुप इसके बाद दूल्हे को बिना दुल्हन के वापस लौटना पड़ा।

हालांकि, शादी के लिए दूल्हा BMW कार में ही सवार होकर आया था, लेकिन गांव का रास्ता इतना खराब और छोटा था कि विवाह स्थल तक बीएमडब्ल्यू नहीं जा सकती थी। ऐसे में दूल्हे को बाइक पर बैठाकर मंडप तक ले जाना पड़ा। शादी की रस्में पूरी हो जाने के बाद और विदाई से कुछ देर पहले दोनों पक्षों में विवाद खड़ा हो गया। मामला इतना बिगड़ गया कि बात मारपीट तक पहुंच गई और मामला थाने तक पहुंच गया। इस बात पर दूल्हा और दुल्हन पक्ष के लोगों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि बात मारपीट और गाली गलौच तक पहुंच गई और मामला थाने पहुंच गया।

दूल्हे पक्ष ने आरोप लगाया हैं कि दुल्हन पक्ष के लोगों ने शराब पी रखी थी और वो जिद पर अड़ गए कि जब तक बीएमडब्ल्यू मंडप तक नहीं आएगी वो अपनी बेटी की विदा नहीं करेंगे, जिसके बाद दूल्हे पक्ष के लोगों ने उन्होंने समझाने की कोशिश की और कहा कि रास्ता छोटा होने के कारण बीएमडब्ल्यू कार मंडप तक नहीं आ पाएगी।

दूल्हा पक्ष ने यह भी आरोप लगाया कि दुल्हन पक्ष ने उनके साथ मारपीट भी की। दूल्हे के पिता ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। अपनी शिकायत में उन्होंने लिखवाया कि यह झगड़ा BMW कार की वजह से हुआ क्योंकि सड़क छोटी है, कार अंदर नहीं आ सकती थी।

उदार, दुल्हन पक्ष का आरोप है कि दूल्हे वाले दहेज की मांग कर रहे थे।

दूल्हे की बहन भूमि पढ़ियार ने बताया कि आराम से शादी की सभी रस्में पूरी हो गईं थीं, लेकिन बीएमडब्ल्यू कर को अंदर लाने को लेकर विवाद हो गया। दुल्हन के पिता तखासिह परमार ने बताया कि वो लोग बिना दुल्हन विदा कराए ही यहां से चले गए।

वहीं लड़की की मां का कहना है कि लड़के वालों ने विदाई के समय दो लाख और बाइक मांगी थी।

फिलहाल, इस मामले पर पुलिस ने संज्ञान ले लिया है और दोनों पक्षों का पक्ष भी सुन लिया है, जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।