कोरोना के घटते आंकड़ों पर मंत्री-विधायक आमने- सामने, पाठक बोले-आप ऐसे तो ना थे भाई साहब

जो लोग मौत के खेल में शामिल हैं, मंत्री जी ये समय उनके सामने झुकने का नहीं है उनके पैर छू कर सम्मान देने का नहीं है, ये समय उनके पैर ग्वालियर की जमीं से उखाड़ फेंकने का है

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। कोरोना के घटते आंकड़ों पर ग्वालियर के कोरोना प्रभारी मंत्री और कांग्रेस विधायक आमने सामने आ गए हैं।  पिछलेसात दिनों से कोरोना संक्रमित मरीजों (Corona Positive Patients) का आंकड़ा लगातार कम होता जा रहा है।  जहाँ ये कभी लम्बे समय तक 1000  पर ही रुका हुआ था अब एकदम आधा रह गया है यानि 11 मई को जारी मेडिकल बुलेटिन में कोरोना संक्रमितों (Corona Positive Patients) का आंकड़ा 492 रह गया है।  इस पर कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak) ने सवाल उठाये हैं।  उनके सवाल पर कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) ने जवाब दिया तो विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak) ने कहा – आप ऐसे तो ना थे प्रद्युम्न भाईसाहब।

कोरोना संक्रमितों की चैन को ब्रेक करने के लिए किये जा रहे सरकारी प्रयासों के बीच ग्वालियर में पिछल सात दिन से  कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा घट रहा है। आंकड़ा घटते घटते मंगलवार 11 मई को 492 पर पहुंच गया। जिसके बाद कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) और कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak) आमने सामने आ गए हैं  लगातार घटते आंकड़ों पर जहाँ प्रशासन और कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar)  ने संतुष्टि जताई वहीँ ग्वालियर दक्षिण विधानसभा के कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak) ने सवाल उठाये हैं।

कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak) ने सोशल मीडिया पर लिखा – केवल 492 पॉजिटिव केस हैं ग्वालियर में मुझे शर्म आती है मानवता को शर्मसार करने वाले हर व्यक्ति पर। पहले भी यही गलतियां की है सरकार ने और प्रशासन ने , सिर्फ अपने जादुई आंकड़ों के चलते शहर को मौत के मुंह में धकेल दिया।

कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak) के ट्वीट पर जब मीडिया ने कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar)  से उनकी प्रतिक्रिया मांगी तो उन्होंने कहा कि  यदि संदेह है तो बैठकर बात करें। ये समय राजनीति करने का नहीं है दलगत भावना से ऊपर उठकर कोरोना महामारी से लड़ने का है।  अब स्थिति बहुत कंट्रोल में है।  कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) के जवाब के बाद कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak) ने सोशल मीडिया पर कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को जवाब दिया –

कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak)  ने फेसबुक , ट्विटर पर लिखने के साथ साथ एक पत्र कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को लिखा –

“हम बात करें दलीलों से तो भी रद्द होती है,
उनकी होठों की खामोशी भी सनद होती है”

आप ऐसे तो न थे, प्रद्युम्न भाई साहबसाहब

कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak) ने लिखा आपसे तो ये उम्मीद क़तई नहीं है।  आप हमारी सरकार में भी मंत्री थे और अब इस सरकार में भी मंत्री हैं सरकार आएंगी- जाएंगी , अधिकारी आएंगे – जाएंगे, मगर हमको और आपको यहीं रहना है, इसी शहर में इसी जनता के बीच और इसी घिनौने सच के साथ कि कठिन समय पर सिर्फ़ अपने कुप्रबंधन के चलते प्रशासन और सरकार ग्वालियर के हज़ारों लोगों की जान नहीं बचा पाए।

कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक (Congress MLA Praveen Pathak) ने लिखा – हम सार्वजनिक जीवन में राजनीति करने, अपने स्वार्थों के लिए सरकार गिराने और बनाने के लिए नहीं आये हैं, हम सार्वजनिक जीवन में आम जन की मदद करने के लिए हैं, उनका सहयोग करने के लिए हैं , उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर कठिन समय में चलने के लिए आए हैं।

आपसे अनुरोध है कि बड़े अधिकारियों के पक्ष में खड़े रहने की बजाए अगर आप जनता के हित में खड़े रहेंगे तो मैं और हमारे ग्वालियर की पूरी जनता आपके प्रति सदैव कृतज्ञ रहेगी । जो लोग मौत के खेल में शामिल हैं, मंत्री जी ये समय उनके सामने झुकने का नहीं है उनके पैर छू कर सम्मान देने का नहीं है, ये समय उनके पैर ग्वालियर की जमीं से उखाड़ फेंकने का है इन सफ़ेदपोश लोगों को सजा देने का है जिन्होंने हमारे परिवारों के कई लोगों की जान ले ली।