26 दिसंबर को शिवराज-सिंधिया की तीसरी मुलाकात, इन मुद्दों पर बड़ा ऐलान संभव, अटकलें तेज

इस बार ऐसा माना जा रहा है कि मंत्रिमंडल में कोई फैसला हो सकता है। साथ ही मंत्रिमंडल विस्तार के नामों की घोषणा भी पार्टी दफ्तर में की जा सकती है। 

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) में एक बार फिर से मंत्रिमंडल विस्तार (cabinet expansion) के बीच निगम मंडलों की नियुक्ति और बीजेपी प्रदेश कार्यकारिणी को लेकर चर्चा तेज हो गई है। इसका कारण है राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) का एक बार फिर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) से मुलाकात करना। दरअसल राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 26 दिसंबर को एक बार फिर सीएम शिवराज (CM shivraj) से मुलाकात करेंगे। दोनों नेताओं की यह 25 दिन में तीसरी बैठक होगी। माना जा रहा है कि इसके साथ ही मंत्रिमंडल विस्तार और प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा भी की जा सकती है।

तहसील प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा का बड़ा कारण है प्रदेश प्रभारी पी मुरलीधर राव का भी दो दिवसीय यात्रा पर भोपाल आना। हालांकि पी मुरलीधर राव जिला अध्यक्षों की ट्रेनिंग कैंप में शामिल होने के लिए भोपाल पहुंच रहे हैं लेकिन इस दौरान उनकी प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा ( VD Sharma) और संगठन महामंत्री सुहास भगत (Suhas bhagat) से भी चर्चा होगी। इस दौरान राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी पी मुरलीधर राव (P. Murlidhar Rao) से मुलाकात करेंगे। इसके बाद अंदाजा लगाया जा रहा है कि जल्द ही प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार सहित, निगम मंडल और कार्यकारिणी को लेकर बड़ा ऐलान किया जा सकता है।

Read More: दुर्घटनाग्रस्त जीप को देख रहे लोगों पर तेज रफ्तार बस पलटी,चार की मौके पर ही मौत

ज्ञात हो कि राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 26 दिसंबर को भोपाल दौरे पर रहेंगे। करीब शाम 6 बजे सीएम शिवराज सिंह चौहान के साथ बैठक करेंगे। यह बैठक करीब एक घंटे चलेगी। जिसमें मध्य प्रदेश से जुड़े कई अहम मुद्दों पर चर्चा होगी। ज्योतिरादित्य सिंधिया शाम 7:00 बजे भोपाल के बीजेपी दफ्तर पहुंचेंगे और संगठन के नेताओं से मुलाकात करेंगे। इस दौरान वीडी शर्मा से भी ज्योतिरादित्य सिंधिया चर्चा करेंगे। बता दें कि एक महीने के अंदर सिंधिया का यह चौथा दौरा है।

बता दें कि सिंधिया के लगातार दौरे से कयास लगाए जा रहे हैं कि जल्द ही मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है। पिछले दौरे के दौरान भी सिंधिया अपने दल के साथ सीएम हाउस पहुंचे थे। लेकिन इस बार ऐसा माना जा रहा है कि मंत्रिमंडल में कोई फैसला हो सकता है। साथ ही मंत्रिमंडल विस्तार के नामों की घोषणा भी पार्टी दफ्तर में की जा सकती है।