scindia-will-decide-fate-of-candidate-on-these-seats

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कांग्रेस (congress) का हाथ छोड़ मध्य प्रदेश के विकास (MP Developent) के लिए बीजेपी का दामन थामने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) विकास कार्यों के लिए लगातार प्रयासरत हैं। इसके लिए उन्होंने 15वें वित्त आयोग के अध्यक्ष एनके सिंह (NK Singh) को पत्र लिखा है। वहीं उन्होंने उम्मीद जताई है कि 1 फरवरी को पेश होने वाले बजट (budget) में मध्यप्रदेश को बड़ी सौगात मिलेगी।

दरअसल पिछले साल अगस्त महीने में बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 15वें वित्त आयोग अध्यक्ष एनके सिंह को पत्र लिखा था। जहां उन्होंने मध्य प्रदेश विकास कार्यों के लिए फंड आवंटित करने का अनुरोध किया था। पत्र में उन्होंने चंबल नदी से ग्वालियर मुरैना में पानी लेने के प्रोजेक्ट, चंदेरी में बुनकरों के विकास, ग्वालियर शिवपुरी चंदेरी क्षेत्र के पर्यटन विकास कार्य और बाबा महाकालेश्वर मंदिर का अनुरक्षण करने के संबंध में मध्य प्रदेश को फंड उपलब्ध कराने का अनुरोध किया था। उन्होंने उम्मीद जताई कि 1 फरवरी को पेश होने वाली केंद्रीय बजट में ग्वालियर चंबल संभाग, उज्जैन, शिवपुरी, मुरैना और ओरछा को बड़ी सौगात मिल सकती है वही मध्यप्रदेश के क्षेत्रों में विकास के नए द्वार खुलेंगे। ऐसी भी उन्होंने आशा जताई है।

Read More: नगरीय निकाय चुनाव – कांग्रेस की निगाहें आदिवासी वोट बैंक पर, इस नेता को कमान  

बता दे कि आने वाले दिनों में महाकाल मेरे पूरी तरह से बदला हुआ नजर आएगा उज्जैन स्मार्ट सिटी योजना के तहत में देश के विकास और विस्तार के लिए कार्य शुरू किया गया है। वहीं उम्मीद जताई गई है कि 2028 में महाकाल मंदिर का रुकना होगा और वर्तमान क्षेत्रफल से महाकालेश्वर मंदिर का परिसर 8 गुना ज्यादा बड़ा हो जाएगा। इसके साथ ही उज्जैन, शिवपुरी और ओरछा जिले में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के तहत विकास कार्य शुरू किए गए हैं।

वहीं इस साल का केंद्रीय बजट 1 फरवरी को पेश किया जाएगा। इससे पहले संसद का बजट सत्र 29 जनवरी से शुरू होगा। जिसका पहला चरण 15 फरवरी तक जबकि दूसरा चरण 8 मार्च से 8 अप्रैल तक चलेगा। वही सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उम्मीद जताई है कि 1 फरवरी के बजट में मध्यप्रदेश को बड़ी सौगात मिल सकती है।