शोरूम के मालिक ने पुलिसकर्मियों को बकी गाली, कहा- सीएम और उनकी पत्नी यहां बैठने आती है

कारोबारी ने वहां मैजूद सभी पुलिसकर्मियों को पुलिस अधिकारी से लेकर मुख्यमंत्री शिवराज चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) और नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) की धमकी तक दे डाली।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पुलिस कंट्रोल रूम (Police Control Room) के सामने वाहन चेकिंग (Vehicle Checking) के दौरान कारोबारी (Businessman) पुलिसकर्मियों (Police) से भिड़ गया। कारोबारी इतने जोश में था कि उसने खाकी वर्दी का कोई लिहाज नहीं किया और वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को माँ बहन की गालियां देना शुरू कर दिया। कारोबारी ने वहां मैजूद सभी पुलिसकर्मियों को पुलिस अधिकारी से लेकर मुख्यमंत्री शिवराज चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) और नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) की धमकी तक दे डाली। मान्यवर शोरूम के मालिक सुमित अग्रवाल के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। शासकीय कार्य मे बाधा डालने सार्वजनिक स्थान पर गाली देना, मोटर व्हीकल एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ है।

मान्यवर शोरूम का बताया मालिक

दरअसल कल रात पीएचक्यू (PHQ) पर रूटीन प्रक्रिया के तहत चैकिंग अभियान जारी था। इस दौरान बिना सीट बैल्ट (Seat Belt) और मास्क (Mask) पहने गाड़ी चला रहे एक युवक को पुलिसकर्मियों ने रोका तो युवक भड़क गया और मंत्रियों, मुख्यमंत्री और पुलिस अधिकारियों से उसके संपर्क होना बता कर वहां मजूद पुलिसकर्मियों को गाली बकने लगा। पुलिसकर्मियों द्वारा युवक का नाम पूछने पर उसने अपना नाम सुमित अग्रवाल बताते हुए खुद को मान्यवर शोरूम का मालिक बताया।

कहा – मुख्यमंत्री और उनकी पत्नी बैठने आते है

सुमित ने वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को धमकाते हुए बताया कि PHQ IG उसके अनिल माहेश्वरी उसके फूफा है, अभी उनको बुला कर सबकी परेड निकाल दूंगा। सुमित यहीं नहीं रुका उसने धीरे-धीरे अपने पॉलिटिकल संबंध भी गिनवाने शुरू कर दिए। उसने मंत्री विश्वास सारंग और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का नाम लेते हुए कहा कि मेरे शोरूम पर आते है। सुमित यहीं नही रुका उसने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनकी पत्नी साधना उनके शोरूम पर आ के बैठते है। इस दौरान पुलिसकर्मी पूरे समय सुमित के सामने भाईसाहब-भाईसाहब कहते ही राह गए।

सुमित ने लगाए कॉलर पकड़ने के आरोप

करीब आधे घंटे तक युवक का ड्रामा चलता रहा, इस दौरान PHQ के सामने गाड़ियों का जाम लग गया और युवक वहां मौजूद पुलिसकर्मियों पर अपने पोलिटिकल संबंध और ऊंची पकड़ बात कर धौस जमाते रहा। युवक आरोप लगता रहा कि वहां से 10 गाड़ियां गुज़र रही है पर पुलिस वालों से उसकी ही क्यों गाड़ी पकड़ी। वहीं सुमित ने पुलिसकर्मियों पर उसकी कॉलर पकड़ने के भी आरोप लगाए है। सुमित का कहना था कि उसे अर्जेंट में अस्पताल जाना था।

हुई कार्यवाही

सुमित अग्रवाल को पुलिस ने बिना मास्क और बिना सीट बैल्ट लगाए ड्राइविंग करते हुए पकड़ा था। सुमित ने पुलिसकर्मियों के साथ गाली गलौज भी की थी। ऐसे मामलों में मोटर व्हीकल एक्ट, शासकीय कार्य मे बाधा उत्पन्न करने, गाली गलौज और मास्क न लगने के तहत कार्यवाही की जाती है। मान्यवर शोरूम के मालिक सुमित अग्रवाल के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। शासकीय कार्य मे बाधा डालने सार्वजनिक स्थान पर गाली देना, मोटर व्हीकल एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ है। कारोबारी ने वाहन चेकिंग के दौरान पुलिस को गाली दी थी।