MP में फिलहाल कड़ाके की ठंड से राहत नहीं, इन जिलों में शीतलहर का अलर्ट

प्रदेश में सबसे कम तापमान पचमढ़ी में 1.2 डिग्री सेल्सियस और उमरिया में 2 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रहा।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| Weather Update. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में पिछले कुछ दिनों से कड़ाके की ठण्ड पड़ रही है| अधिकाँश जिलों में शीतलहर (Cold wave) के कारण तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है| 15 जिलों में रात का पारा सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया। अब आगामी 24 घंटे के दौरान मौसम विभाग ने प्रदेश के कई जिलों में शीतलहर चलने का अलर्ट जारी किया है|

प्रदेश में अभी कड़ाके की सर्दी से राहत नहीं मिलेगी, मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे शीतलहर चलने की चेतावनी जारी की है। इसमें बालाघाट, जबलपुर और सिवनी में कहीं-कहीं तीव्र शीतलहर चल सकती है, जबकि चंबल संभाग के जिलों और रीवा, सतना, शहडोल, उमरिया, छिंदवाड़ा, मंडला, दमोह, छतरपुर, टीकमगढ़, रायसेन, होशंगाबाद, खंडवा, रतलाम, उज्जैन, शाजापुर, गुना और दतिया में कहीं-कहीं शीतलहर चलेगी। इसके अलावा मंडला, नरसिंहपुर और टीकमगढ़ में दिन शीतल रहेंगे। मौसम विभाग ने इसके साथ ही ठंडी हवाओं के चलने से ठंड बढ़ने की आशंका जताई है।

पश्चिमी हिमालय में एक सिस्टम बनने के कारण इसका सीधा असर मध्यप्रदेश में पड़ रहा है। हालांकि दो से तीन दिन बाद तापमान में आंशिक बढ़ोतरी की संभावना जताई जा रही है। मंडला, नरसिंहपुर, टीकमगढ़ और खंडवा में शनिवार को दिन ठंडा रहा, जबकि सिवनी व मलाजखंड में तीव्र शीतलहर चली। इसके अलावा रीवा, सतना, उमरिया, छिंदवाड़ा, जबलपुर, मंडला, खजुराहो, नौगांव, दमोह, होशंगाबाद, भोपाल, रायसेन, खंडवा, रतलाम और उज्जैन में शीतलहर का प्रभाव रहा। प्रदेश में सबसे कम तापमान पचमढ़ी में 1.2 डिग्री सेल्सियस और उमरिया में 2 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रहा|

MP में फिलहाल कड़ाके की ठंड से राहत नहीं, इन जिलों में शीतलहर का अलर्ट