मप्र उपचुनाव 2020 : उमा भारती के बयान के कई सियासी मायने, कांग्रेस बोली- संकेत स्पष्ट

उमा भारती ने कहा कि मैं एक पिछड़ी जाति में पैदा हुई हूं और भगवान ने मुझे ऐसा उठाया कि आज मैं जहां से चुनाव लडूं जीत जाती हूँ। 

Uma-Bharti-follower-mukesh-will-contest-election-from-sagar

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। लंबे अरसे के बाद एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की फायर बिग्रेड नेत्री उमा भारती (Uma Bharti) की उपचुनाव (By-election) के सहारे मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में सक्रियता बढ़ गई है। उपचुनाव के दंगल में उमा के उतरने के बाद से ही उनके मध्यप्रदेश वापसी को लेकर सियासी गलियारों में हलचल तेज है। हालांकि इसके संकेत बीते दिनों ही मिले थे, जब उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) के साथ मंच साझा किया था और अब उनके एक बयान ‘मुझे प्रचंड राजनीति करना है इसलिए 2024 में चुनाव लड़ूंगी’ से इस बात को बल भी मिला है।

दरअसल, सोमवार को उमा भारती भाजपा प्रत्याशी डॉ प्रभुराम चौधरी (Dr. Prabhuram Chaudhary)  के पक्ष में सभा को संबोधित करने सांची विधानसभा क्षेत्र (Sanchi Assembly) पहुंची थी। जहां उन्होंने कहा कि मैं एक पिछड़ी जाति में पैदा हुई हूं और भगवान ने मुझे ऐसा उठाया कि आज मैं जहां से चुनाव लडूं जीत जाती हूँ।   यूपी में भी मेरे ही नेतृत्व में चुनाव लड़ा गया और मैंने मुख्यमंत्री बनने से मना कर दिया था, लेकिन अब मुझे प्रचंड राजनीति करना है इसलिए 2024 में चुनाव लड़ूंगी।

यह पहला मौका नही है इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की शादी की सालगिरह का मामला हो या बड़ा मलहरा से कांग्रेस विधायक रहे प्रद्युम्न सिंह लोधी (Pradyuman Singh Lodhi) के BJP में शामिल होने के बाद कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिलाने या फिर ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) का एयरपोर्ट से उतरकर सीधे उमा के घर पहुंचना भी इस ओर संकेत करते नजर आ रहे है कि उमा की मध्यप्रदेश में सक्रियता धीरे धीरे बढ़ रही है। अगर ऐसा है तो यह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के लिए शुभ संकेत नही है।

कांग्रेस बोली – शिवराज के लिए दुखद संकेत

उमा के इस बयान के बाद सियासी गलियारों में चर्चाओं का दौर शुरु हो गया है।कांग्रेस ने इसे शिवराज के लिए एक दुखद संकेत करार दिया है।  कांग्रेस प्रवक्ता और ग्वालियर चंबल संभाग के प्रभारी केके मिश्रा (KK Mishra) ने ट्वीट कर लिखा है कि शिवराज जी, रावण दहन के बाद आपके लिए एक दुःखद संकेत,उमा भारती जी ने सोमवार को रायसेन में कहा-मुझे प्रचंड राजनीति करना है,2024 में चुनाव लड़ूंगी,उप्र में मेरे नेतृत्व में लड़ा गया था चुनाव,मैंने मुख्यमंत्री बनने से मना कर दिया था! यानी संकेत स्पष्ट?

कांग्रेस की होगी जमानत जब्त- उमा भारती

वही कांग्रेस (Congress) को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस की कई सीट पर जमानत जब्त होगी।प्रभुराम चौधरी भी राजनीति में लोगो की सेवा करने आये हैं। मैं आभारी हूं काँग्रेस के साथियों की, जिन्होंने भाजपा की सरकार बनाई है। भाजपा की स्थायी सरकार के लिए प्रभुराम चौधरी को वोट देने के लिए मुट्ठी बांधकर शपथ भी दिलाई गई।यह पहला मौका था जब  उमा के माध्यम से 2018 में पूर्व मंत्री डॉ गौरीशंकर शेजवार के प्रतिस्पर्धी रहे चौधरी की सभा में  उनके बेटे मुदित ने मंच साझा किया।

सिंधिया की तारीफ, राहुल-प्रियंका पर हमला

इस दौरान उमा सिंधिया की तारीफ करते हुए कहा कि  कांग्रेस ने सबसे बड़ा प्रचारक ज्योतिरादित्य सिंधिया को खो दिया है। सिंधिया मेहनती हैं, डरे नहीं, कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आ गए साथ ही उन्होंने बीजेपी प्रत्याशी प्रभुराम को बेटे जैसा बताया। भारती ने कहा कि आपके क्षेत्र से मंत्री रहे प्रभुराम ने जनता की आवाज के लिए कुर्सी छोड़ी है, कोरोना काल का संकट चलहा है, विजयादशमी पर आप विजय दिलाने का संकल्प लें। मोदी जी के हाथ मे देश सुरक्षित है। उमाभारती ने राहुल गांधी और प्रियका गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि लोगों के अंदर भगवान का वास होता है, कमलनाथ की सरकार भी ऐसे ही चली गयी। नेताओं को भ्रम हो जाता है इसलिए आम लोगो का सम्मान करना चाहिए।इस मौके पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा (VD Sharma) भी मौजूद रहे।

(भोपाल से पूजा खोदाणी की रिपोर्ट)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here