नगरीय निकाय चुनाव: कार्यक्रम कैलेंडर जारी, दिसंबर-जनवरी में हो सकते हैं चुनाव

आयोग ने कैलेंडर भी तैयार किया है। इसे सभी जिलों में भेज कर कैलेंडर के अनुसार कार्य करने के निर्देश भी जारी किए जा चुके हैं

निकाय चुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) में विधानसभा उपचुनाव (Assembly By-election) संपन्न हो चुका है। इसके साथ ही नगरीय निकाय (Urban bodies) और पंचायत चुनाव (Panchayat Election) की तैयारियां भी शुरू की जा चुकी है। बड़े पैमाने पर चुनाव की गतिविधियों को आगे बढ़ाया जा रहा है। जिससे मुमकिन है कि प्रदेश में दिसंबर-जनवरी तक नगर निकाय चुनाव होने की भी संभावना है।

दरअसल चुनाव को लेकर जनता के बीच जागरूकता फैलाने के लिए आयोग (commission) कई तरह के कार्यक्रम आयोजित करने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए आयोग ने कैलेंडर भी तैयार किया है। इसे सभी जिलों में भेज कर कैलेंडर के अनुसार कार्य करने के निर्देश भी जारी किए जा चुके हैं।

Read More: नगरीय निकाय चुनाव: बढ़ेगी मतदान केंद्रों की संख्या, निर्वाचन आयोग ने जिलों को दिए निर्देश

आयोग ने अपने निर्देश में कहा है कि पिछले चुनाव में जिन क्षेत्रों में कम वोटिंग हुई है। उस जगह को चिन्हित कर उन क्षेत्रों में इस तरह के कार्यक्रम आयोजित की जाए। वोटरों को मतदान केंद्र तक खींचने के लिए भी आयोग द्वारा कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। बता दें कि आयोग द्वारा जारी कैलेंडर में दिसंबर के पहले सप्ताह तक सभी कार्यक्रम पूरा करने की बात कही गई है  स्पष्ट है कि दिसंबर अंत और जनवरी तक प्रदेश में नगर निकाय चुनाव करवाए जा सकते हैं।

इससे पहले आयोग द्वारा ईवीएम की जांच शुरू कर दी गई है । मतदाता केंद्र की संख्या बढ़ाने की तरह भी खासा ध्यान दिया जा रहा है। जबकि इससे पहले नगर परिषदों की मतदाता सूची बनाने का कार्यक्रम भी जारी कर दिया गया था। वही मुक्त चिन्ह घोषित कर दिए गए हैं। जिससे मुमकिन है कि दिसंबर तक चुनाव आयोजित करवाए जा सकते हैं। बता दें कि वर्ष 2014 में नगर निकाय चुनाव में 69% लोगों ने मतदान किया था। जहां आयोग द्वारा इस बार जागरूकता फैलाकर मतदाताओं को मतदान केंद्र तक लाना बड़ी चुनौती होगी।