CSIR UGC NET 2024: सीएसआईआर यूजीसी नेट का एग्जाम सिटी स्लिप जारी, ऐसे करें चेक, 25 जून से परीक्षा शुरू, जानें अपडेट 

CSIR UGC NET जून सेशन का एग्जाम सिटी स्लिप जारी हो चुका है। जल्द ही एडमिट कार्ड भी जारी होंगे। परीक्षा 25 जून से शुरू होगी।

Manisha Kumari Pandey
Published on -
CSIR UGC NET

CSIR UGC NET 2024: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने सीएसआईआर यूजीसी नेट जून सेशन के लिए एडवांस एग्जाम सिटी स्लिप जारी कर दी है। जो भी उम्मीदवार परीक्षा में शामिल होने वाले हैं वे ऑफिशियल वेबसाइट https://csirnet.nta.ac.in/ पर जाकर सिटी स्लिप डाउनलोड कर सकते हैं। लॉग इन करने के लिए एप्लीकेशन नंबर और जन्मतिथि दर्ज की जरूरत पड़ेगी।

ऐसे डाउनलोड करें एग्जाम सिटी स्लिप

  • सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट https://csirnet.nta.ac.in/ पर जाएं।
  • अब CSIR UGC NET 2024 City Intimation Slip के लिंक पर क्लिक करें।
  • नया पेज खुलेगा। लॉग इन क्रेडेंशियल यानि एप्लीकेशन नंबर, जन्मतिथि और सिक्योरिटी पिन दर्ज करें।
  • “Submit” बटन पर क्लिक करें।
  • स्क्रीन पर सिटी इंटीमेशन स्लिप दिखेगा। इसे अच्छे से चेक करें।
  • भविष्य के संदर्भ में आप सिटी स्लिप को डाउनलोड और सेव करके रख सकते हैं।

एडमिट कार्ड पर अपडेट

सीएसआईआर यूजीसी नेट के एडमिट कार्ड जल्द ही जारी हो सकते हैं। आम तौर पर एनटीए परीक्षा के दो दिन पहले प्रवेश पत्र जारी करता है। एग्जाम सिटी स्लिप में परीक्षा केंद्र से संबंधित जानकारी उपलब्ध होती है। उन शहरों के नाम होते हैं, जहां परीक्षा आयोजित होगी। ताकि कैंडीडेट्स अपने रहने और जाने की व्यवस्था कर सकें। यह एडमिट कार्ड नहीं होता। हॉल टिकट से संबंधित जानकारी के लिए नियमित तौर पर आधिकारिक वेबसाइट विजिट करते रहने की सलाह दी जाती है।

कब होगी परीक्षा?

सीएसआईआर यूजीसी नेट का शेड्यूल जारी हो चुका है। 25, 26 और 27 जून को कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (CBT) मोड में एग्जाम आयोजित होंगे। परीक्षा का समय 180 मिनट होगा। इसमें मल्टीपल च्वाइस प्रश्न रहते हैं। एग्जाम में 5 पेपर होंगे। परीक्षा अंग्रेजी और हिन्दी मोड में दो शिफ्टों में आयोजित होगी। पहली शिफ्ट सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक चलेगी। दूसरी शिफ्ट दोपहर 3 बजे से शाम 6 बजे तक चलेगी ।

CSIR UGC NET

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News