CUET PG 2023: उम्मीदवारों के लिए जरूरी खबर, NTA ने जारी किया नया नोटिस, 5 मई तक करें रजिस्ट्रेशन, जानें अपडेट

CUET PG 2023: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने नया नोटिस जारी किया है। कॉमन यूनिवर्सिटी एन्ट्रेंस टेस्ट के आधार पर अब 6 अन्य विश्वविद्यालयों में दाखिला होगा। उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट nta.ac.in पर जाकर नोटिफिकेशन चेक कर सकते हैं।

नोटिफिकेशन के मुताबिक इस विश्वविद्यालयों के लिस्ट में ऐमिटी यूनिवर्सिटी झरखंड (Amity University), हिंदुस्तान इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस (Hindustan Institute Of Technology And Science), ख्वाजा मॉइनूद्दीन चिस्ती लैंग्वेज यूनिवर्सिटी (Khwaja Moinuddin Chisti Language University), रामा यूनिवर्सिटी (Rama University), जमशेदपुर महिला विश्वविद्यालय (Jamshedpur Women’s University) और आईसीएफएआई यूनिवर्सिटी त्रिपुरा (ICFAI University) शामिल हैं।

यूजीसी ने रजिस्ट्रेशन के लिए अंतिम तिथि की तारीख आगे बढ़ा दी है। इच्छुक उम्मीदवार 5 मई, 2023 तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। करेक्शन विंडो (Correction Window) 6 मई को खुलेगा और 8 मई को बंद हो जाएगा। परीक्षा का आयोजन जून में होगा। जिसके लिए 5,6, 7, 8, 9, 10, 11 और 12 जून की तारीख निर्धारित की गई है। 2 शिफ्टों में एग्जाम आयोजित होंगे। पहली पाली सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक होगी। वहीं दूसरी पालि दोपहर 3 बजे से शाम 5 बजे तक आयोजित होगी।

ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

  • सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट cuet.nta.in पर जाएं।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर CUET पीजी के लिंक पर क्लिक करें।
  • जानकारी को दर्ज करके रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी करें।
  • अब जरूरी दस्तावेज और फीस का भुगतान करें।
  • अब एप्लीकेशन फॉर्म को सबमिट करें और भविष्य के लिए एक प्रिन्ट आउट निकाल कर रख लें।

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News