MP Nursing Exam: 3 साल बाद 15 मई से शुरू होंगी नर्सिंग परीक्षाएं, अब भी 50 हजार छात्रों को करना होगा इंतजार, जानें कारण?

रवि परमार ने कहा कि अभी लड़ाई खत्म नहीं हुई है, नर्सिंग महाघोटाला में संलिप्त दोषियों पर जब तक कड़ी कार्रवाई नहीं होगी तब तक निरंतर लड़ाई जारी रहेगी।

Pooja Khodani
Published on -
mp exam

MP Nursing Exam :मध्य प्रदेश के नर्सिंग छात्रों के लिए राहत भरी खबर है। हाई कोर्ट के आदेश के बाद  15 मई से फिर नर्सिंग की परीक्षाएं शुरू होने जा रही है, इसमें करीब 30 हजार छात्र शामिल होंगे। इसके लिए पूरे प्रदेश में 181 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं.। मध्य प्रदेश मेडिकल साइंस यूनिवर्सिटी ये परीक्षाएं करवाएंगी। इस परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र यानी हॉल टिकट जारी कर दिए गए हैं। आवेदन से चूके स्टूडेंट्स  14 मई तक ऑनलाइन आवेदन  https://mpmsu.edu.in/ कर सकते हैं।

फर्जीवाड़े के चलते 3 सालों से नहीं हो सकी थी परीक्षाएं 

दरअसल,  निजी नर्सिंग कॉलेज के फर्जीवाड़े के चलते 3 सालों से ये परीक्षा नहीं हो सकी थी, लेकिन अब उच्च न्यायालय ने सीबीआई जांच में सूटेबल यानी पात्र, डिफिशिएंसी यानी अपात्र और तय मापदंड पर खरे नहीं उतरने वाले उन कॉलेज की परिक्षाएं कराने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा जिन नर्सिंग कॉलेजों ने सुप्रीम कोर्ट से स्टे लिया था, प्रदेश के उन सभी नर्सिंग कॉलेजों के सभी छात्र-छात्राओं की परीक्षाएं कराने के आदेश दिए हैं।हालांकि साल 21-22 और 22-23 के 50 हजार से अधिक छात्रों को अब भी इंतजार करना पड़ेगा। एनएसयूआई नेता रवि परमार ने उच्च न्यायालय का आभार व्यक्त किया और छात्र-छात्राओं को भी परीक्षाओं के लिए शुभकामनाएं दी है।

Continue Reading

About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)