MPPSC : सरकार ने HC में दिया जवाब, इस दिन आएंगे प्रारंभिक-मुख्य परीक्षा 2019-20 के परीक्षा परिणाम

MPPSC : जिसके लिए राज्य सरकार की ओर से प्रक्रिया पूरी करने और कैबिनेट में रखे जाने के लिए 1 सप्ताह की मोहलत की मांग की गई है।

MPPSC

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (Madhya pradesh pubic service commission) के उम्मीदवारों के लिए राहत भरी खबर है। दरअसल MPPSC द्वारा आयोजित राज्य सेवा प्रारंभिक-मुख्य परीक्षा 2019 और राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 (State Service Preliminary-Main Exam 2019 & State Service Preliminary Exam 2020) के परीक्षा परिणाम जल्द घोषित किए जा सकते हैं। मध्यप्रदेश शासन की ओर से हाईकोर्ट (High ccourt) ने इस मामले में जानकारी दी गई है। जिसमें बताया गया है कि 3 हफ्ते के भीतर MPPSC राज्यसेवा परीक्षा 19-20 के रिजल्ट जारी किए जा सकेंगे।

बता दें कि राज्य सेवा परीक्षा में आरक्षण विवाद को लेकर 46 याचिका हाईकोर्ट में दाखिल है। जिसकी सुनवाई की जा रही है। हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान राज्य शासन की ओर से जानकारी दी गई है कि नियम को रद्द करने की प्रक्रिया पूरी कर दी गई है लेकिन मुख्यमंत्री की मंजूरी अभी बाकी है।

Read More : कर्मचारियों के लिए राहत भरी खबर, 18 महीने के बकाए DA पर आई बड़ी अपडेट, जाने किस दिन मिलेगी राशि

जिसके लिए राज्य सरकार की ओर से प्रक्रिया पूरी करने और कैबिनेट में रखे जाने के लिए 1 सप्ताह की मोहलत की मांग की गई है। हालांकि हाईकोर्ट की तरफ से राज्य सरकार को 2 सप्ताह का समय दिया गया है। वहीं सुनवाई के दौरान मुख्य न्यायाधीश रवि मलिमथ और जस्टिस विजय कुमार शुक्ला की युगल पीठ ने राज्य सरकार के जवाब के रिकॉर्ड पेश करते हुए मामले की अगली सुनवाई 22 दिसंबर को तय की है।

बता दे राज्य संगठन अपाक्स सहित 47 याचिकाओं में PSC की परीक्षा नियम में संसोधन के अलावा प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा 2019 प्रारंभिक परीक्षा 2020 की संवैधानिक वैधता को भी चुनौती दी गई थी। जिसके लिए परीक्षा नियम में संशोधन करने की मांग की गई थी। वही याचिका में कहा गया था कि परीक्षा नियम में संशोधन के जरिए यह प्रावधान घोषित किया जाए की मेरिट में आने वाले आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को अनारक्षित वर्ग में शामिल नहीं किया जाएगा।

ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि पीएससी में यदि यह नियम लागू होते हैं तो PSC में आरक्षित उम्मीदवारों के लिए आरक्षण प्रतिशत संख्या 113 पहुंच जाएगी। जिस मामले पर सुनवाई की जा रही है वहीं आरक्षण नियम संशोधन की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। जल्द इसे कैबिनेट में प्रस्तुत किया जाएगा। कैबिनेट में मुख्यमंत्री की मंजूरी मिलने के बाद MPPSC प्रारंभिक-मुख्य परीक्षा 2019 और प्रारंभिक परीक्षा 2020 के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे।