CG Weather: आज इस संभाग में दस्तक देगा मानसून! कई जिलों में बारिश के आसार, बिजली गिरने का भी अलर्ट

आज मानसून रायपुर संभाग में सक्रीय हो सकता है। सुबह से ही रायपुर में बादल छाए हुए और तेज ठंडी हवा चल रही है, ऐसे में आज रायपुर में बारिश की संभावना है।

cg weather update today

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट। छत्तीसगढ़ में दुर्ग के रास्ते प्रवेश हुए मानसून अब धीरे धीरे अन्य जिलों की तरफ बढ़  रहा है। संभावना जताई जा रही है कि यह एक दो दिनों में रायपुर और बिलासपुर भी पहुंच सकता है।छत्तीसगढ़ मौसम विभाग (CG Weather Department) के अनुसार, प्रदेश में 18 जून को अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ बौछार की संभावना है। वही प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गरज चमक के साथ वज्रपात होने तथा अंधड़ चलने की संभावना है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, राज्य में जल्द बहाल होगी पुरानी पेंशन योजना, CM ने दिए संकेत

सीजी मौसम विभाग (CG Weather Alert) के अनुसार, आज मानसून रायपुर संभाग में सक्रीय हो सकता है। सुबह से ही रायपुर में बादल छाए हुए और तेज ठंडी हवा चल रही है, ऐसे में आज रायपुर में बारिश की संभावना है। प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ अंधड़ चलने की संभावना जताई जा रही है।वही बिलासपुर में भी एक दो दिन में मानसून के दस्तक देने के आसार है। जून अंत तक मानसून प्रदेश भर में छा जाएगा।

सीजी मौसम विभाग (CG Weather Forecast) के अनुसार,मानसून के आगे बढते ही अधिकतम तापमान में गिरावट और न्यूनतम तापमान में गिरावट का दौर शुरू होने वाला है। पिछले 24 घंटे में जांजगीर जिले में भारी बारिश और अन्य जिलों में हल्की बारिश देखने को मिली।आज 18 जून को अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गरज चमक के साथ वज्रपात होने तथा अंधड़ चलने की संभावना है।

यह भी पढे.. इन कर्मचारियों के लिए राहत भरी खबर, जल्द मिलेगा संशोधित वेतनमान और एरियर, कैबिनेट में आएगा प्रस्ताव

सीजी मौसम विभाग (CG Weather Update) के अनुसार, दक्षिण पश्चिम मानसून के अगले 3 दिन में मध्य प्रदेश के कुछ भाग, विदर्भ के शेष भाग, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़ के कुछ भाग, उड़ीसा, गंगेटिक पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार के कुछ और भाग में मानसून के पहुंचने की संभावना बन रही है। एक द्रोणिका उत्तर-पश्चिम उत्तर प्रदेश से मणिपुर तक स्थित है। उत्तर-दक्षिण द्रोणिका उत्तर पूर्व बिहार से अंदरूनी उड़ीसा तक 3.1 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है।