पूर्व सांसद

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना वाइरस(corona virus) एक बार फिर से देश पैर पसारता हुआ नजर आ रहा है। ऐसे में शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग(vishwas kailash sarang) की अध्यक्षता में मंगलवार को विधानसभा स्थित उनके कक्ष में जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप(district crisis management) की बैठक हुई। बैठक में भोपाल में बढ़ते कोरोना केसेस को देखते हुए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये। इसमें जन-जागरूकता फैलाने और गाइड-लाइन का पालन करवाने के सख्त निर्देश दिये गये।

महाराष्ट्र में तेज गति से बढ़ रहे कोरोना केसेस को ध्यान में रखकर बैठक में निर्णय लिया गया कि महाराष्ट्र(maharashtra) से आने वाले व्यक्तियों की थर्मल स्केनिंग(thermal scanning) की जाये। थाना स्तर पर एसडीएम की अध्यक्षता में सभ्रांत वर्ग और व्यापारियों की बैठक कर जन-जागरूकता के लिये आवश्यक कदम उठाये जायें। कोरोना के बढ़ते हुए मरीजों की संख्या को देखते हुए धरना-प्रदर्शन पर भी रोक लगाने का निर्णय बैठक में लिया गया।

जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में कहा गया कि क्षेत्रों में मेला स्थान पर कोरोना गाइड-लाइन का 100 प्रतिशत पालन सुनिश्चित हो। दुकानदारों को मास्क की अनिवार्यता और सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन कराने के निर्देश भी दिये जायें। नगर निगम रोको-टोको अभियान को पुन: शुरू करे और मास्क न पाये जाने पर 100 रुपये का फाइन ले। हाट-बाजारों में भी कोरोना गाइड-लाइन का पालन सुनिश्चित करवाया जाये।

बैठक में विधायक श्रीमती कृष्णा गौर, श्री रामेश्वर शर्मा, श्री पी.सी. शर्मा, श्री विष्णु खत्री सहित कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया, डीआईजी श्री इरशाद वली, नगर निगम आयुक्त श्री के.वी.एस. चौधरी के अलावा अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।