कर्मचारियों को मिला तोहफा, DA में 7 फीसद की बढ़ोतरी, 5 महीने के एरियर्स का होगा भुगतान, जून में आएगी राशि

वृद्धि 1 जनवरी 2022 से पूर्वव्यापी रूप से लागू की जाएगी।

cpcc

चंडीगढ़, डेस्क रिपोर्ट। सरकार (State government) ने एक बार फिर से 6th pay commission कर्मचारियों (Employees) को बड़ी राहत दी है। दरअसल उनके लिए DA-DR में वृद्धि की गई है। एक तरफ जहां छठे पंजाब वेतन आयोग के लिए DA को 3 फीसद बनाया गया है। वहीं पांचवें वेतन आयोग के लिए इसमें 7 फीसद की बढ़ोतरी की गई है।

इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं। वहीं इस वृद्धि का लाभ 1 जनवरी से कर्मचारियों को मिलेगा। साथ ही 5 महीने की एरियर्स का भी उन्हें भुगतान किया जाएगा। केंद्र सरकार के फैसले के अनुरूप, यूटी प्रशासन ने यूटी कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (DA) को मौजूदा 31% से बढ़ाकर मूल वेतन का 34% कर दिया है। वृद्धि 1 जनवरी 2022 से पूर्वव्यापी रूप से लागू की जाएगी।

Read More : MP News : अब मेयर और अध्यक्ष ‘जन’ नेता नहीं, पार्षदों के होंगे नेता, सरकार ने वापस लिया अध्यादेश

पंजाब वेतन आयोग के अनुसार, प्रशासन ने 1 जुलाई, 2021 से महंगाई राहत (DR) को 28% से बढ़ाकर 31% और 1 जनवरी, 2022 से DA को 31% से बढ़ाकर 34% कर दिया है। छठे पंजाब वेतन आयोग के अनुसार वेतन पाने वाले कर्मचारियों, पेंशनभोगियों या पारिवारिक पेंशनभोगियों के लिए डीए 1 जनवरी, 2022 से 196% से बढ़ाकर 203% कर दिया गया है।

प्रशासन द्वारा एक अधिसूचना में कहा गया है कि भारत सरकार, वित्त मंत्रालय, व्यय विभाग, नई दिल्ली ने 31 मार्च, 2022 के पत्र संख्या 1/2/2022-ई-द्वितीय (बी) के माध्यम से केंद्र सरकार के कर्मचारियों को देय महंगाई भत्ता 1 जनवरी, 2022 से मूल वेतन के मौजूदा 31% से 34% तक की दर में वृद्धि की है। अधिसूचना के अनुसरण में, चंडीगढ़ प्रशासन के यूटी के कर्मचारियों के लिए 31% से 34% की दर कि वृद्धि सहित एरियर्स का भी लाभ मिलेगा।

इसी तरह, प्रशासन ने पेंशनभोगियों या पारिवारिक पेंशनभोगियों की महंगाई राहत (डीआर) को 1 जुलाई, 2021 से 28 प्रतिशत से बढ़ाकर 31 प्रतिशत और 1 जनवरी, 2022 से 31 प्रतिशत से बढ़ाकर 34 प्रतिशत कर दिया है। छठे पंजाब वेतन आयोग के अनुसार पेंशन प्राप्त कर रहे हैं। प्रशासन ने पूर्व-संशोधित वेतनमानों में अपने वेतन को जारी रखने वाले लाभार्थियों के डीए को 1 जनवरी, 2022 से 196 प्रतिशत से बढ़ाकर 203 प्रतिशत कर दिया है।