मुख्यमंत्री शिवराज सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shhivraj singh chauhan) कोरोना (corona) की समीक्षा बैठक कर रहे। इस दौरान क्षेत्र के जनप्रतिनिधि पूर्व में नगर पालिका, नगर परिषद, नगर पंचायत के अध्यक्ष सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारियों को संबोधित कर रहे हैं। सीएम शिवराज (cm shivraj) ने कहा कि 1 जून से अनलॉक होना शुरू होगा। इसके लिए सिस्टम बनाया जाए। सीएम शिवराज ने कहा कि इस मानसून पेड़ लगाने से बड़ा कोई काम नहीं है। अंकुर योजना की शुरूआत मप्र में की जा रही है।

सीएम शिवराज ने कहा कि आज मैं राहत के साथ ये कह रहा हूं। आप सबके परिश्रम के कारण आज हम संक्रमण को नियंत्रित करने की स्थिति में पहुंच गए हैं। मप्र का समग्र पॉजिटिविटी रेट (positivity rate) 4.82% हो गया है। कुछ बड़े जिलों में अभी भी काफी केसेस हैं। 31 मई तक हमें कोरोना संक्रमण को काबू में करना है। एक काम ये करना है ये जहां है। उसे वहीं रोक देना है। एक से ज्यादा माइक्रो कंटनमेंट एरिया (Micro Containment Area) बनाए जा सकते हैं। जहां हॉटस्पॉट है वहां टेस्टिंग (testing) चलती रहना चाहिए। अधिकतम टेस्ट करके संक्रमित पहचान लेना ये उपाय है।

Read More: काली पट्टी बांधकर काम करेंगे डॉक्टर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, 25 मई से हड़ताल की चेतावनी

सीएम शिवराज बोले आपके यहां कोविड सहायता केंद्र होगा। सर्दी, जुखाम, बुखार है तो तत्काल बताओ। कोविड सहायता केंद्र में जांच कराएं। उसका तुरंत इलाज हो जाएगा। जब तक कोरोना कर्फ्यू है, हम उसका ठीक से पालन करवा लें। मैं जानता हूं कष्ट, तकलीफें बहुत है, लेकिन लोगों की जिंदगी से ज्यादा नहीं है। टारगेट रखें कोरोना फ्री मेरा शहर। 1 जून से अनलॉक होना शुरू होगा। इसका भी सिस्टम बनाएंगे। एक-एक करके जहां-जहां खोलना है। उसकी भी मैं बैठक कर रहा हूं।

सीएम शिवराज ने कहा कि मैं आपसे आग्रह कर रहा हूं। आपके सहयोग के बिना नहीं हो सकता। एक-एक पेशेंट की पहचान करें। देरी से मृत्यु होती है। कई तरह की योजना हमने बनाई हैं। जैसे गरीब को राशन देना। 24 श्रेणियां कलेक्टर्स को पता है। उनके अनुसार कार्य हो। कोविड से अनाथ हुए बच्चों की परवरिश के लिए हम योजना लाए हैं, इसमें अपने आस-पास ऐसे बच्चों को ढूंढकर उनका सहयोग करें। इसमें ऐसे बच्चों को 5 हजार रु., नि:शुल्क शिक्षा और राशन दिया जाएगा।

Read More: काली पट्टी बांधकर काम करेंगे डॉक्टर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, 25 मई से हड़ताल की चेतावनी

सीएम शिवराज ने कहा कि धीरे-धीरे वैक्सीनेशन की संख्या बढ़ेगी। हम जानते हैं कि वैक्सीन ही सुरक्षा कवच है। इसलिए वैक्सीनेशन के काम से जुड़ें अधिकतम डोज मिलें इसके प्रयास किए जा रहे हैं। वैक्सीन के बारे में कोई भ्रम ना रहे यदि हो तो समाप्त कर दें।

सीएम शिवराज ने कहा कि इस मानसून पेड़ लगाने से बड़ा कोई काम नहीं है। अंकुर योजना हम शुरू कर रहे हैं। इसे अभियान बना लें। असंतुलन के कारण कई तरह की कठिनाईयां हम महसूस कर रहे हैं। इस मानसून में संकल्प लें अधिकाधिक पेड़ पौधे लगाना है। आपके सहयोग से कोरोना हारेगा मानवता जीतेगी।