BJP विधायकों के निशाने पर बिजली विभाग, अब इस MLA ने CM Shivraj से की शिकायत

अगर बिजली कटौती को जल्द सुधार नहीं किया गया तो कांग्रेस जल्द ही प्रदेश में बड़ा आंदोलन करेगी।

ऊर्जा मंत्री

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में बिजली विभाग (electricity department) पर मामल गर्माता जा रहा है। दरअसल भाजपा विधायक (BJP MLA) नारायण त्रिपाठी (narayan tripathi) के बाद टीकमगढ़ से बीजेपी विधायक राकेश गिरी (Rakesh giri) ने बिजली विभाग की खामियों को उजागर करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh Chauhan) को पत्र लिखा है। राकेश गिरी ने पत्र लिखते हुए कहा कि मप्र में बिजली की हालत खराब होती जा रही है।

12 से 15 घंटे अघोषित बिजली कटौती जनता के लिए परेशानी का सबब बन गई है। इतना ही नहीं इस बिजली कटौती से सबसे ज्यादा नुकसान किसानों (farmers) को हो रहा है किसान फसलों की सिंचाई नहीं कर पा रहे हैं बिजली कटौती से जनता में काफी रोष की स्थिति उत्पन्न हो गई है।

Read More: गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान, ओवैसी की पार्टी से जुड़े अल्तमस का कनेक्शन पाक से भी

इतने बीजेपी विधायक राकेश गिरी ने अघोषित बिजली कटौती को बंद करने की मांग की है। बता दें कि इससे पहले भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने भी बिजली विभाग की खामियों को उजागर करते हुए पत्र लिखा था। उन्होंने कहा था अधिकारी लोकल जानकारी दे रहे हैं। बिजली बिल में लगातार गड़बड़ियां देखी जा रही है। अगर ऐसा ही रहा तो आगामी चुनाव में भाजपा को बड़ा नुकसान हो सकता है।

नारायण त्रिपाठी ने अपने पत्र में कहा था कि मुख्यमंत्री और ऊर्जा मंत्री को इस मामले को स्वयं देखना चाहिए। लगातार विंध्य क्षेत्र में बिजली कटौती से हाहाकार मचा हुआ है। बिजली के अघोषित कटौती पर कांग्रेस (congress) भी आंदोलन करने की तैयारी में है। इस मामले में कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी का कहना है कि अघोषित बिजली कटौती से पढ़ाई के साथ-साथ काम धंधा और किसानों की व्यवस्था भी प्रभावित हो रही है। अगर बिजली कटौती को जल्द सुधार नहीं किया गया तो कांग्रेस जल्द ही प्रदेश में बड़ा आंदोलन करेगी।