सिखों को खालिस्तानी कहना पड़ा भारी, कंगना रनौत के खिलाफ दर्ज हुई FIR

हाल ही में आजादी और महात्मा गांधी से जुड़े बयानों को लेकर भी विवादों में रही हैं कंगना रनौत।

मुंबई, डेस्क रिपोर्ट। विवादित बयानों के लिए चर्चित पद्मश्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) एक बार फिर मुश्किलों में फंसती दिखाई दे रही हैं। खालिस्तानी कहने से नाराज सिखों ने एक संगठन ने कंगना रनौत के खिलाफ खार पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज करवाई है।  सिख समुदाय ने अपनी शिकायत में कहा कि कंगना रनौत ने सोशल मीडिया एकाउंट पर जो टिप्पणी की उससे उन्हें ठेस पहुंची है।  पुलिस ने सिख संगठन के पदाधिकारियों की शिकायत पर फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ धारा 295 ए और IPC की अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

जानकारी के अनुसार दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी (DSGMC) के पदाधिकारियों ने खार पुलिस स्टेशन में कंगना रनौत के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। शिरोमणि अकाली दल के नेता और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने कंगना रनौत के खिलाफ FIR दर्ज करवाई है। FIR अमरजीत सिंह संधू निवासी मुंबई की तरफ से की गई है।

ये भी पढ़ें – घुटने तोड़ने का मसला रामधुन के बाद स्वागत पर पहुंचा, विधायक रामेश्वर शर्मा ”हलवे पूड़ी से करेगे सबका स्वागत”

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी (DSGMC) की तरफ से कहा गया है कि कंगना रनौत ने किसानों के विरोध (किसान मोर्चा) को खालिस्तानी आंदोलन का रूप बताया और सिख समुदाय को खालिस्तानी आतंकवादी कहा।  शिकायत में कहा गया कि कंगना रनौत ने सिख समुदाय के खिलाफ बहुत अपमानजनक बातें कही हैं।

ये भी पढ़ें – Amazon के खिलाफ हो सकती है NSA की कार्रवाई, इंदौर कलेक्टर ने कहा, जांच के बाद होगा फैसला

गौरतलब है कि कंगना रनौत ने किसान आंदोलन को लेकर एक विवादित पोस्ट सोशल मीडिया पर किया था।  कंगना ने लिखा कि खालिस्तानी आतंकवादी आज भले ही सरकार का हाथ मरोड़ रहे हैं लेकिन हमें उस महिला (पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी) को नहीं भूलना चाहिए जिसने अपनी जूती के नीचे इन्हें कुचल दिया था।

सिखों को खालिस्तानी कहना पड़ा भारी, कंगना रनौत के खिलाफ दर्ज हुई FIR