मुंबई सहित 18 राज्यों में 11 जुलाई तक भारी बारिश का अलर्ट, दिखेगी मानसून की सक्रियता, जाने IMD का लेटेस्ट अपडेट

दक्षिणी राज्यों में केरल कर्नाटक तमिलनाडु महाराष्ट्र और गोवा में लगातार 5 दिन तक भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देशभर में लगातार मौसम में बदलाव (Today weather) देखने को मिल रहा है। उत्तराखंड में कहीं भारी बारिश से स्थिति बनी हुई है। वहीं देहरादून झमाझम बारिश (rain) का दौर देखने को मिल रहा है। इधर IMD के मुताबिक मुंबई में अगले 5 दिनों तक भारी बारिश का दौर जारी रहेगा। बिहार झारखंड में लगातार मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। बिहार में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया जबकि उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में बूंदाबांदी देखने को मिल सकती है।

इधर दिल्ली में भी बौछार देखने को मिल सकती है। शनिवार से दिल्ली में बारिश का दौर शुरू हो जाएगा। इसके लिए आसमान में बादल घिरे रहेंगे। न्यूनतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस जबकि अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना जताई गई है।

दक्षिणी राज्यों में केरल कर्नाटक तमिलनाडु महाराष्ट्र और गोवा में लगातार 5 दिन तक भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। वहीं मुंबई में बारिश का कहर देखने को मिल रहा है। इसके अलावा असम मेघालय मणिपुर में इस साल आईएमडी ने जून में सबसे अधिक वर्षा 858.1 मिलीमीटर रिकॉर्ड की है। मध्य प्रदेश महाराष्ट्र राजस्थान गुजरात पंजाब हरियाणा और नई दिल्ली में भी मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। आसमान में बादल छाए रहेंगे। बौछार पड़ने का सिलसिला जारी रहेगा। गरज चमक अभी अलर्ट जारी किया गया है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के पूर्वानुमान के अनुसार, गुरुवार को दिल्ली में हल्की बारिश की संभावना है। अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है। बुधवार को उमस भरे दिन के बाद जब अधिकतम तापमान 38.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया तो रात को राहत नहीं मिली।

गुरुवार तड़के न्यूनतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो साल के इस समय के सामान्य से दो डिग्री अधिक है। जारी एक अपडेट में IMD ने कहा कि पिछले 24 घंटों में अधिकतम आर्द्रता 83% दर्ज की गई है। गुरुवार सुबह 8.30 बजे सापेक्षिक आद्र्रता 75 प्रतिशत थी।

Read More : Test Ranking में Virat Kohli टॉप 10 से हुए बाहर, Rishabh Pant ने तोड़ा रिकॉर्ड

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने बुधवार को मुंबई, ठाणे और महाराष्ट्र के अन्य हिस्सों के लिए अगले पांच दिनों के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया। मुंबई, ठाणे और रायगढ़ क्षेत्रों में लगातार तीसरे दिन भारी बारिश हो रही है। बारिश के कारण कई जगहों पर भूस्खलन और जल-जमाव हो गया है और वित्तीय राजधानी में यातायात बाधित है।

आईएमडी के क्षेत्रीय मौसम विभाग के अनुसार, मुंबई और अन्य स्थानों पर 6 जुलाई से 10 जुलाई के बीच छिटपुट स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। असम और मेघालय ने 121 वर्षों में 858.1 मिमी वर्षा के साथ सबसे अधिक जून वर्षा दर्ज की, जो 1966 में दर्ज किए गए 789.5 मिमी के पहले के रिकॉर्ड को तोड़ती है, लेकिन केरल और माहे में वर्षा 1901 के बाद से 308.7 मिमी पर चौथी सबसे कम थी, जो जून के लिए एक जलवायु सारांश द्वारा तैयार किया गया था।

मध्य भारत पर कम दबाव के क्षेत्र की सहायता से, दक्षिण-पश्चिम मानसून ने गति पकड़ ली है, जिससे इस क्षेत्र में खरीफ फसलों की बुवाई के लिए भरपूर बारिश हुई है। मौसम कार्यालय ने कहा कि मध्य भारत और पश्चिमी तट पर अगले पांच दिनों के लिए सक्रिय मानसून की स्थिति का अनुभव होगा, जबकि देश के उत्तर-पश्चिमी हिस्सों में गुरुवार से मौसमी बारिश होने की संभावना है।

इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव के क्षेत्र के कारण चार सिस्टम एक्टिव है। जिसका असर मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ सहित बंगाल में देखने को मिल सकता है। आसमान में बादल छाए रहेंगे। वही क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट भी जारी किया गया है। उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में आज तापमान में 2 फीसद की वृद्धि रिकॉर्ड की जा सकती है। वहीं बिहार के भी कुछ दिनों में तापमान में एक से दो फीसद की बढ़ोतरी देखने को मिलेगी।