IMD Alert : मौसम में बदलाव से मिली राहत, 22 राज्यों में 27 मई तक भारी बारिश का अलर्ट, केरल में जल्द होगी मानसून की दस्तक

IMD ने केरल में कम से कम 10 जिलों के लिए एक येलो अलर्ट जारी किया है

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देशभर के मौसम में बदलाव (weather today) देखने को मिल रहा है। लगातार IMD ALert ने कई राज्यों में बारिश (rain) के साथ गरज-चमक की संभावना जताई जा रही है। वहीं कई राज्यों में बारिश और बौछार से मौसम सुहावना बना हुआ है। पूरे भारत में अब किसी भी जिले में ही हीटवेव का अलर्ट (heatwave alert) जारी नहीं किया गया है। वही लगातार हो रहे मानसून एक्टिविटी (monsson activity) और प्री मानसून गतिविधि (pre-monsoon activity) के कारण मौसम में आद्रता भी देखने को मिल रही है।

वही IMD Alert ने 20 से 22 राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया है। साथ ही कई राज्यों में गरज चमक के साथ बिजली गिरने की संभावना भी जताई गई है। वहीं उत्तराखंड में तेज हवा और भारी बारिश सहित बर्फबारी के कारण केदारनाथ की चार धाम यात्रा पर रोक लगा दी गई है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने 24 और 25 मई को उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया, क्योंकि भारत के उत्तरी हिस्से में मूसलाधार बारिश हुई थी।

उत्तरी पहाड़ियों पर भारी बारिश की भविष्यवाणी की गई है। वरिष्ठ वैज्ञानिक आरके जेनामणि ने कहा कि हमने हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर जैसे ऊंचे इलाकों में ऑरेंज स्तर की चेतावनी जारी रखी है क्योंकि आज संवहन अधिक है।भारतीय मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, एक “पश्चिमी विक्षोभ” के कारण जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में अलग-अलग गरज के साथ व्यापक लेकिन मध्यम वर्षा होने की संभावना है।

Read More : Guna : सहायक नेत्र चिकित्सक के घर लोकायुक्त की छापेमारी कार्रवाई, अहम दस्तावेज बरामद, आय से अधिक संपत्ति का मामला

अगले तीन दिनों तक उत्तर-पश्चिम और पूर्वी भारत में मध्यम से भारी बारिश होगी। जिसकी सबसे अधिक तीव्रता रहने की संभावना है। पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और उत्तरी मध्य प्रदेश में भी छिटपुट बारिश हो सकती है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार रविवार से गुरुवार (26 मई) तक जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में छिटपुट गरज के साथ व्यापक से मध्यम वर्षा होने की संभावना है।

25 और 26 मई को, मौसम पूर्वानुमान कार्यालय ने 25 मई को हिमाचल प्रदेश और पंजाब के साथ-साथ हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में अलग-अलग ओलावृष्टि की भविष्यवाणी की है। सोमवार को पंजाब और जम्मू-कश्मीर में बहुत अधिक बारिश होने का अनुमान है। 25 से 27 मई तक पूर्वी क्षेत्र में बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ और ओडिशा में बारिश होने की संभावना है। मौसम कार्यालय ने Advisory में कहा कि बंगाल की खाड़ी से पूर्वोत्तर और पड़ोसी पूर्वी भारत में निचले क्षोभमंडल स्तरों पर दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के कारण विभिन्न उत्तर-पश्चिमी राज्यों में बारिश की संभावना है।

अपडेट के अनुसार, अगले दो दिनों के दौरान अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में गरज के साथ हल्की से भारी बारिश होगी। हालांकि, सोमवार से इनमें से कुछ राज्यों में कहीं-कहीं भारी बारिश देखने को मिलेगी। IMD ने अगले तीन दिनों में उत्तर पश्चिम और मध्य भारत के कई हिस्सों में अधिकतम तापमान में 3-5 डिग्री सेल्सियस की गिरावट की भविष्यवाणी की है, इसके बाद 2-4 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होगी।

शनिवार से भारतीय क्षेत्र में ठंडक का दौर शुरू हो गया है। मौसम सेवा ने चेतावनी दी। अगले 3-4 दिनों के दौरान देश के किसी भी हिस्से में लू चलने की कोई संभावना नहीं है। इस बीच IMD ने केरल में कम से कम 10 जिलों के लिए एक येलो अलर्ट जारी किया है, और इडुक्की जिला प्रशासन ने शनिवार और रविवार को अतिरिक्त पानी छोड़ने के लिए कल्लारकुट्टी और पंबला बांधों के शटर खोल दिए हैं।

अधिकारियों के अनुसार, स्थिति में सुधार के बाद, दिल्ली, पंजाब और हरियाणा के लिए ऑरेंज अलर्ट को पीली चेतावनी में बदल दिया गया। तेज बारिश के कारण केदारनाथ की चार धाम यात्रा रोक दी गई है। जिला प्रशासन ने तीर्थयात्रियों की सुरक्षा का हवाला देते हुए रुद्रप्रयाग में केदारनाथ धाम की यात्रा रोक दी।