मप्र पंचायत चुनाव 2021: तारीखों का ऐलान जल्द, जिलेवार अधिकारियों की नियुक्ति, जानें अपडेट

नोडल अधिकारी के सहयोग के लिए जिला पंचायत के अतिरिक्त CEO दयाशंकर सिंह को सहायक नोडल अधिकारी का दायित्व सौंपा गया है।

पंचायत चुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में पंचायत चुनावों (MP Panchayat Election 2021) की तैयारियां जोरों पर चल रही है।आयोग द्वारा जिलेवार कलेक्टरों-एसपी (Collector-SP) को जिम्मेदारी सौंपी जा रही है वही अधिकारियों की नियुक्ति का भी सिलसिला जारी है। संभावना जताई जा रही है कि दिवाली बाद कभी भी पंचायत चुनाव की तारीखों का ऐलान हो सकता है और आचार संहिता (Code of conduct) लग सकती है, इसके बाद नवंबर के आखिरी सप्ताह या दिसंबर में मतदान कराए जा सकते है। इसी कड़ी में इंदौर के बाद अब अलग अलग जिलों में नोडल और रिटर्निंग अधिकारी (Returning Officer) की नियुक्ति की जा रही है।

यह भी पढ़े.. MP Job Alert 2021: इन पदों पर निकली है भर्ती, 2.80 लाख तक सैलरी, ऐसे करें अप्लाई

विदिशा कलेक्टर (Vidisha Collector) एवं जिला निर्वाचन अधिकारी उमाशंकर भार्गव ने जिले में त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2021 के सफल संचालन के लिए जारी कार्य विभाजन आदेशानुसार अपर कलेक्टर डॉ योगेश भरसट को निर्वाचन संबंधी विभिन्न कार्यो के संपादन के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। नोडल अधिकारी के सहयोग के लिए जिला पंचायत के अतिरिक्त CEO दयाशंकर सिंह को सहायक नोडल अधिकारी का दायित्व सौंपा गया है।वही शहडोल कलेक्टर (Shahdol Collector) एवं जिला निर्वाचन अधिकारी वंदना वैद्य ने त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2021 के सफल संचालन के लिए भी मतदान केंद्रों में शांतिपूर्ण मतदान एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जनपद जयसिंहनगर में 14 एवं ब्यौहारी में 20 सेक्टर बनाए हैं।


इसके अलावा शाजापुर में पंचायत चुनावों 2021 की तैयारियों को लेकर ब्लॉक स्तरीय मास्टर ट्रेनर्स के प्रशिक्षण का आयोजन कलेक्टर सभाकक्ष शाजापुर में दो पारियों प्रथम पारी प्रात: 11.00 बजे से दोपहर 2.00 बजे तक अनुभाग शाजापुर एवं द्वितीय पारी दोपहर 2.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक में अनुभाग शुजालपुर के मास्टर ट्रेनर्स को प्रशिक्षण प्रदान किया गया। ​प्रशिक्षण में त्रिस्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन के लिए दोनों अनुभागों से 45-45 मास्टर ट्रेनर्स को प्रशिक्षण प्रदान किया गया, जो विकासखंड एवं अनुभाग स्तर पर मतदान दलों को प्रशिक्षण देंगे। प्रशिक्षण में पंच व सरपंच के मतपत्र व मत पेटियों से होने वाले चुनाव तथा जिला एवं जनपद पंचायत सदस्य के EVM से होने वाले चुनाव की प्रक्रिया को विस्तार से बताया गया।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों को 28000 का दिवाली बोनस, सैलरी में भी बढ़ोतरी, जानें कब ट्रांसफर होगा पैसा

इसके साथ ही पंच व सरपंच पद के लिए मतदान केंद्रों पर होने वाली मतगणना तथा जिला व जनपद सदस्य के ईवीएम से होने वाले मतदान के लिए मॉक पॉल एवं मतदान के लिए EVM सीलिंग प्रक्रिया एवं ईवीएम के संचालन का विस्तार से प्रशिक्षण दिया गया। ​शाजापुर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी दिनेश जैन ने कहा कि यदि हमारे मास्टर ट्रेनर्स मतदान अधिकारियों को आयोग के निर्देशो से अवगत कराते हुए अच्छी तरह से प्रशिक्षित करेंगे तो मतदान अधिकारी शांतिपूर्वक एवं सहजता से मतदान कराने में सफल होंगे।सभी मास्टर ट्रेनर्स आयोग के निर्देशों से निरंतर अद्यतन रहते हुए नीचे स्तर पर प्रशिक्षण देंगे