MP Politics: जयवर्धन के लिए इस तैयारी में दिग्विजय! Kamalnath के लिए बनेंगे चुनौती

मामले में दिग्विजय सिंह अपनी राजनीतिक गुरु अर्जुन सिंह की तरह गलती नहीं करना चाहेंगे।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पिछले चुनाव (previous by-election) में बेहतरीन प्रदर्शन करने के बाद कांग्रेस (congress) उत्साह में हैं। एक बार फिर से चुनाव में तैयारी के साथ उतरने के लिए कांग्रेस कमर कस रही है। वहीं MP Politics विधानसभा चुनाव (Assembly elections) में संगठन स्तर पर बड़े बदलाव के आसार नजर आ रहे हैं। माना जा रहा है कि कमलनाथ (kamalnath) जल्द ही कार्यकारिणी की घोषणा कर सकते हैं। इसी बीच राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (digvijay singh)  उत्तराधिकारी के रूप में जयवर्धन सिंह (jaivardhan singh) को सत्ता के और करीब लेकर जाना चाह रहे हैं।

दरअसल चर्चाओं की माने तो दिग्विजय सिंह एक कदम फूंक-फूंक कर रख रहे हैं। एक तरफ जहां कमलनाथ की कार्यकारिणी घोषित करने की घोषणा की जा चुकी है। वहीं दूसरी तरफ दिग्विजय सिंह इस प्रयास में है कि उनके पुत्र जयवर्धन को कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया जाए। हालांकि सूत्रों की माने तो कमलनाथ इस पद को समाप्त करने की तैयारी में है। दरअसल इस मामले में सूत्रों का कहना है कि 3 कार्यकारी अध्यक्ष में से 2 का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा है। जिसके बाद कमलनाथ इस पद को समाप्त करने की तैयारी में है।

Read More: MP News: IAS ने DGP को की रिपोर्ट, धमकी मिलने के बाद सामने आया बड़ा बयान, देखे VIDEO

चर्चा यह भी है कि कमलनाथ इसी महीने कार्यकारिणी करने की घोषणा कर सकते हैं। वहीं कार्यकारिणी टीम में 60 पदाधिकारी की नियुक्ति की जाएगी। जिसमें युवा चेहरों को प्राथमिकता दी जाएगी। दिग्विजय सिंह की कोशिश है कि जयवर्धन को प्रदेश अध्यक्ष की दावेदारी मिल सके। इसके लिए अभी उनका एक-एक कदम सत्ता की तरफ ले जाना जरूरी है। इस मामले में दिग्विजय सिंह अपनी राजनीतिक गुरु अर्जुन सिंह की तरह गलती नहीं करना चाहेंगे।

हालांकि इस मामले में प्रदेश कांग्रेस के महासचिव के के मिश्रा का कहना है कि संगठन की नई टीम में उन चेहरों को प्राथमिकता दी जाएगी, जो टीम को आगे बढ़ाने का कार्य करेंगे। पार्टी में वरिष्ठ का अनुभव युवाओं के जोश का सलूशन होगा। जहां तक जयवर्धन सिंह की बात है वह प्रदेश के उभरते नेता है और वह युवा कार्यकारिणी में आकर्षण का केंद्र भी रहेंगे।