MP By-Election: रोचक हुआ पृथ्वीपुर का उपचुनाव, मामा और दादा ने एक दूसरे पर दागी मिसाइलें

शिवराज ने खुद को विकास का गारंटर बताते हुए कहा कि वे पृथ्वीपुर के विकास की गारंटी देने आए हैं।

निवाङी, मयंक दुबे। MP के निवाड़ी (niwari) और टीकमगढ़ (tikamgarh) जिले में आने वाली पृथ्वीपुर विधानसभा  (Prithvipur by-election) का चुनाव दिन पर दिन रोचक होता जा रहा है। रविवार को चुनावी सभा को संबोधित करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान )shivraj singh chouhan) और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (kamalnath) अलग-अलग पृथ्वीपुर पहुंचे और एक-दूसरे पर निशाना साधा।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह के असामयिक निधन के चलते खाली हुई पृथ्वीपुर की विधानसभा सीट पर चुनावी सरगर्मियां तेज है। जहां कांग्रेस इस सीट को बचाए रखने के लिए पूरी ताकत लगा रही है वहीं बीजेपी का यह प्रयास है कि वह किसी भी तरह से इस सीट पर काबिज हो जाए। रविवार को चुनावी प्रचार के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पृथ्वीपुर पहुंचे और वहीं कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने भी प्रचार किया।

सेमरा में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि 15 महीने के कार्यकाल में कमलनाथ ने पूरे प्रदेश में विकास चौपट कर के रख दिया। किसानों को 0% पर मिलने वाला ब्याज बंद हो गया और कर्ज माफी का वादा वल्लभ भवन में पांचवी मंजिल पर जाकर कमलनाथ भूल गए। शिवराज ने यह भी आरोप लगाया कि पूर्ववर्ती बीजेपी की सरकार द्वारा चालू की गई तमाम योजनाएं कमलनाथ ने बंद कर दी जिन्हें अब शिवराज सरकार दोबारा चालू कर रही है।शिवराज ने अपने भाषण मे कमलनाथ को दादा कहकर संबोधित किया। शिवराज ने खुद को विकास का गारंटर बताते हुए कहा कि वे पृथ्वीपुर के विकास की गारंटी देने आए हैं।

Read More: शासकीय कार्य में लापरवाही, कलेक्टर ने प्रभारी सहायक आयुक्त को जारी किया नोटिस

वही कमलनाथ ने पलटवार करते हुए कहा कि शिवराज सिंह चौहान को 16 साल का शासन काल का हिसाब देना चाहिए। कमलनाथ ने कहा कि शिवराज ने अपने 16 साल के कार्यकाल में 22000 से ज्यादा घोषणा की और वे तो जेब में नारियल लेकर घूमते हैं। कमलनाथ ने यह भी आरोप लगाया कि हर संभव कोशिश की गई कि कांग्रेस के प्रत्याशी नितेंद्र राठौर को येन केन प्रकारेण प्रलोभन देकर बीजेपी में शामिल कर लिया जाएं लेकिन नितेंद्र का तो डीएनए कांग्रेस का है। कमलनाथ ने चुनाव में गड़बड़ियों का आरोप प्रशासन पर लगाया और साफ तौर पर चेताया कि 2 तारीख के बाद 3 तारीख भी आएगी।