MP School: अगस्त से लगेगी 9वीं-10वीं की कक्षाएं, इन बातों का रखना होगा ध्यान

school

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में MP School 10वीं और 12वीं की कक्षाओं को संचालित करने के बाद अब 9वीं और 10वीं की कक्षा को शुरू करने की तैयारी की जा रही है। दरअसल 5 अगस्त से 9वीं और 10वीं की कक्षाएं शुरू की जाएगी। इसके लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा SOP जारी कर दी गई है।

मध्य प्रदेश की राज्य सरकार (shivraj government) ने सभी सरकारी और निजी स्कूलों (government or private chool) को चरणबद्ध तरीके से फिर से खोलने के लिए एक SOP के साथ दिशानिर्देश जारी किया है। प्रदेश सरकार ने कुछ दिन पहले उच्च कक्षाओं (higher classes) के लिए चरणबद्ध तरीके से स्कूलों को फिर से खोलने की घोषणा की थी। फिर से स्कूल खोलने का यह निर्णय इसलिए लिया गया क्योंकि राज्य में कोरोना मामलों में गिरावट देखी गई है। वहीँ संक्रमण की रफ़्तार बेहद कम हो गई है।

Read More: दलितों के साथ कलेक्टर की ये कैसी भाषा! जिला पंचायत सीईओ ने छीना मोबाइल

जारी एसओपी के अनुसार MP School कक्षा 11 और 12 के छात्रों के लिए ऑफलाइन कक्षाएं 26 जुलाई से 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ शुरू हो चुकी है। हालांकि इन छात्रों के लिए कक्षाएं सप्ताह में केवल दो बार आयोजित की जा रही है। वहीं MP School कक्षा 9वीं और 10वीं के छात्रों के लिए शारीरिक कक्षाएं 5 अगस्त से शुरू होंगी लेकिन कक्षा सप्ताह में केवल एक बार आयोजित की जाएंगी। हालांकि ऑनलाइन क्लासेज भी साथ-साथ जारी रहेंगी। स्कूल सप्ताह में केवल 4 दिन ही खुले रहेंगे। जिसमें से 11वीं कक्षा के छात्रों के लिए मंगलवार और शुक्रवार को कक्षाएं, जबकि 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए सोमवार और गुरुवार को कक्षाएं आयोजित की जा रही है।

जबकि बाकी 2 दिनों के लिए 9वीं कक्षा के छात्रों की कक्षाएं शनिवार को ही लगेंगी। इसी तरह MP School 10वीं कक्षा के छात्र बुधवार को ही शारीरिक कक्षाओं में शामिल होंगे। दिशानिर्देशों में कहा गया है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रार्थना सभा और तैराकी जैसी बड़ी सभा आयोजित नहीं की जाएगी। राज्य सरकार ने स्कूलों को सलाह दी है कि यदि संभव हो तो शिक्षकों, छात्रों और कर्मचारियों के सदस्यों में कोरोना संक्रमण की जांच की जाये।

मध्य प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारियों के साथ सभी जिला कलेक्टरों को निर्देश दिया है कि सभी शिक्षकों का स्कूल-कॉलेजों में टीकाकरण सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए 26 जुलाई से 30 जुलाई तक प्रत्येक दिन सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे के बीच जिला केंद्रों एवं प्रखंड कार्यालयों में बने समर्पित टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है।