MP Weather : 24 अप्रैल तक 11 जिलों में बूंदाबादी की संभावना, बिजली गिरने के आसार, इन जिलों में लू का अलर्ट

पश्चिमी विक्षोभ अफगानिस्तान से पश्चिम भाग ऊपर समुद्र तल के ऊपर 3.1 किलोमीटर 5.8 किलोमीटर के बीच साइक्लोनिक सरकुलेशन के रूप में निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है।

weather update

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में फिर से मौसम (MP Weather) बदल गया है। दरअसल कई जिलों में चमक के साथ बारिश (IMD Rain) की संभावना जताई गई है। वहीं कुछ जिलों में लू (heatwave) की चेतावनी भी जारी की गई है मौसम विभाग ने 21 अप्रैल को 11 जिलों में बारिश (rain) की संभावना जताई है। वहीं कई जिलों में गरज चमक की भी संभावना जताई गई है। साथ ही पश्चिमी विक्षोभ (western disturbance) का असर भी मध्यप्रदेश सहित राजस्थान के कुछ हिस्से में देखने को मिलेगा। 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी।

मौसम विभाग (MP Weather Department) की माने तो छिंदवाड़ा, रतलाम में लू का प्रभाव देखने को मिला है। इसे 24 घंटे में प्रदेश के सभी संभागों में मौसम शुष्क रहे हैं। अधिकतम तापमान में सभी संभाग के जिले में कुछ विशेष परिवर्तन देखने को नहीं मिला। इंदौर, नर्मदा पुरम संभाग में सामान्य से अधिक और से संभागों में सामान्य से काफी अधिक तापमान रिकॉर्ड किया गया है।मौसम विभाग की मानें तो प्रदेश में सर्वाधिक अधिक तापमान 44.5 डिग्री सेल्सियस राजगढ़ में रिकॉर्ड किया गया।

हालांकि सागर, भोपाल, इंदौर, उज्जैन, नर्मदापुरम, ग्वालियर और चंबल के जिलों सहित कटनी, जबलपुर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा और सिवनी में बारिश के साथ गरज चमक की संभावना जताई गई है। साथ ही सागर, भोपाल, इंदौर, उज्जैन नर्मदा पुरम, ग्वालियर- चंबल संभाग सहित कई जिलों में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी और गरज के साथ में चमकने की संभावना जताई गई है।

Read More : क्‍या आप जानते हैं मोर को ही क्‍यों चुना गया राष्‍ट्रीय पक्षी

पश्चिमी विक्षोभ अफगानिस्तान से पश्चिम भाग ऊपर समुद्र तल के ऊपर 3.1 किलोमीटर 5.8 किलोमीटर के बीच साइक्लोनिक सरकुलेशन के रूप में निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। जिसके कारण पूर्व मानसून गतिविधि शुरू हो गई है। पूर्व मानसून गतिविधि मैं कुछ राज्य में तापमान में कमी देखने को मिल सकती है। मध्य प्रदेश के पूर्वी और पश्चिमी इलाके में अलर्ट जारी किया लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। वहीं राजधानी भोपाल में आज सुबह से ही हल्के बादल छाए हुए हैं ठंडी हवाएं चलने से जनजीवन सामान्य बना हुआ है। सीधी, सतना उमरिया जबलपुर खरगोन को शामिल किया गया।

प्रदेश में अरब सागर से नहीं देखी जा रही है जिसके असर इंदौर सहित कई जिलों में देखने को मिलेंगे। राजधानी भोपाल सहित कई जिलों में बुधवार से आसमान में बादल छाए हुए हैं। रात के तापमान में गिरावट देखने को मिली न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। मंदसौर में बुधवार को बारिश और बूंदाबांदी से गर्मी से राहत मिली है इसके साथ ही साथ मध्य प्रदेश में 24 अप्रैल तक मौसम का मिजाज ऐसे ही रहने की उम्मीद जताई गई है।

MP Weather : 24 अप्रैल तक 11 जिलों में बूंदाबादी की संभावना, बिजली गिरने के आसार, इन जिलों में लू का अलर्ट