फिर फंसे सलमान खुर्शीद, अब कैलाश ने साधा निशाना, लिखा ‘शर्मनाक’

इसे लेकर bjp के राष्ट्रीय महासचिव kailash vijayvargiya) ने ट्वीट किया है और उसमें उन्होंने शुरुआत इसे 'शर्मनाक' लिखकर की है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कांग्रेस (congress) के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद (salman khursid) की मुसीबतें लगातार बढ़ती जा रही हैं। अब विवाद में उनका एक ट्वीट (tweet) है, जिसमें उन्होंने एक बच्चे के साथ आजादी को लेकर बात कही है। बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (kailash vijayvargiya) ने इसे शर्मनाक कहा है।

‘सनराइज ओवर अयोध्या’ नामक किताब को लेकर विवादों में चल रहे कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद BJP के लगातार निशाने पर है। देशभर में बीजेपी के बड़े नेता उनके खिलाफ बयान और ट्वीट कर रहे हैं। मध्यप्रदेश में गृह मंत्री उनकी किताब को बैन करने की घोषणा कर चुके हैं। अब सलमान खुर्शीद का एक वीडियो (video) सामने आया है जिसमें वह एक बच्चे के साथ ‘लेके रहेंगे आजादी’ का नारा लगा रहे हैं। इस वीडियो में कई लोग और भी साथ में खड़े हैं। छोटा बच्चा नारे लगा रहा है और उसके पीछे सलमान खुर्शीद और बाकी सारे लोग भी बच्चे की लय मे लय मिला रहे हैं।

Read More: MP Corona: फिर बढे कोरोना के केस, 1 की मौत, एक्टिव केस 77 पहुंचा, CM ने कही बड़ी बात

इसे लेकर बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया है और उसमें उन्होंने शुरुआत इसे ‘शर्मनाक’ लिखकर की है। उन्होंने लिखा है कि सोशल मीडिया से यह वीडियो मिला है। इसमें आईएनसी इंडिया नेता सलमान खुर्शीद टुकड़ा टुकड़ा गैंग वाले विरोधी नारे लगाकर नादान बच्चों में राष्ट्र विरोधी संस्कार सिखा रहे हैं। आगे जाकर यही संस्कार राष्ट्र के लिए खतरा बनते हैं। क्या यही कांग्रेस का वास्तविक चेहरा है। इसके पहले पिछले सप्ताह भर से सलमान खुर्शीद देश भर में चर्चाओं में हैं और इसकी वजह उनकी किताब ‘सनराइज ओवर अयोध्या’ है।

इस किताब में उन्होंने हिंदुत्व की तुलना आतंकी संगठन बोको हराम और आईएसआईएस से की है और हिंदुत्व को साधु-संतों के सनातन और प्राचीन हिंदू धर्म से अलग इन इस्लामिक संगठनों की तरह बताया है। इसके साथ ही सलमान खुर्शीद ने हिंदुत्व मानने वाले कांग्रेसी नेताओं की भी आलोचना की है। कई राज्यों में किताबों को बैन करने की घोषणा के साथ-साथ केंद्रीय मंत्री मेघवाल भी इसे लेकर बयान दे चुके हैं।