मध्य प्रदेश के किसानों को कृषि मंत्री का बड़ा तोहफा-ऑनलाइन भेजे जाएंगे मैसेज

कृषि मंत्री ने बताया है कि मंडी में प्रवेश द्वार से लेकर नीलामी की प्रक्रिया, अनुबंध-पत्र, टोल पर्ची, भुगतान-पत्र, अनुज्ञा-पत्र सभी इलेक्ट्रॉनिकली जारी किए जाएंगे।

pm kisan

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी है। आज ईद के मौके पर हरदा को ई-मंडी के पायलट प्रोजेक्ट में शामिल कर लिया गया है । खास बात ये है कि यह ई-मंडी के रूप में प्रदेश की पहली कृषि उपज मंडी होगी। इसकी  जानकारी कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) ने दी है।

यह भी पढ़े.. MP में कोरोना कंट्रोल, तीसरी लहर को लेकर सतर्कता, सामने आया सीएम का बड़ा बयान

कृषि मंत्री ने बताया है कि कृषि उपज मंडी हरदा (Harda) को ई-मंडी के पायलट प्रोजेक्ट (Pilot Project of E-Mandi)में शामिल कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि कृषि उपज मंडी के अधिकारियों और कर्मचारियों को प्रशिक्षण भी प्रदान कर दिया गया है। कृषि उपज मंडी हरदा ई-मंडी के रूप में संचालित होने वाली प्रदेश की प्रथम मंडी होगी।कृषि उपज मंडी हरदा में अब किसानों को सभी सुविधाएँ इलेक्ट्रॉनिकली मिलेगी। इससे पारदर्शिता भी रहेगी और समय की बचत भी होगी।

कृषि मंत्री ने बताया है कि मंडी में प्रवेश द्वार से लेकर नीलामी की प्रक्रिया, अनुबंध-पत्र, टोल पर्ची, भुगतान-पत्र, अनुज्ञा-पत्र सभी इलेक्ट्रॉनिकली जारी किए जाएंगे। पूरा सिस्टम पेपरलेस होकर ऑनलाइन होगा। कृषकों (Farmers) को सारी जानकारियाँ और मैसेज ऑनलाइन (Online Messege) भेजे जाएंगे। मंडी को ई-मंडी के रूप में संचालित करने के लिए सभी अधिकारी-कर्मचारियों को मंडी बोर्ड मुख्यालय भोपाल में 20 जुलाई को प्रशिक्षण दिया गया है। शीघ्र ही कृषि उपज मंडी हरदा ई-मंडी के रूप में कार्य करने लगेगी।

यह भी पढ़े.. MP Board: 10वीं की परीक्षा में ये छात्र नहीं हो सकेंगे शामिल, जल्द आएगा 12वीं का रिजल्ट