Bhopal News: भोपाल कलेक्टर बोले- जहां ज्यादा केस वहां करें सर्वे, निर्देश जारी

भोपाल कलेक्टर(Bhopal Collector )ने कहा कि सीजनल इन्फ्लूएन्जा एच-1 एन-1 के रोकथाम व उपचार के लिये भारत शासन द्वारा दिये गये प्रोटोकॉल और गाइडलाइन (Protocol and Guidelines) का पालन व कार्यवाही करवाना सुनिश्चित करें।

भोपाल कलेक्टर

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक तरफ मध्य प्रदेश Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में शनिवार को 62 नए कोरोना पॉजिटिव (Coronavirus) मिले है, इसमें से 22 मरीज रिपीट पॉजिटिव के साथ कोलार क्षेत्र एक बार फ‍िर हॉटस्‍पॉट (Hotspot  बन गया है। वही दूसरी तरफ मप्र में मौसम के बदलाव (MP Weather Changes)  के कारण स्वाईन फ्लू सीजनल इन्फ्लूएन्जा एच-1 एन-1 की संभावना भी बढ़ गई है, ऐसे में भोपाल कलेक्टर (Bhopal Collector) सीजनल इन्फ्लूएन्जा (H1-N1) के उपचार एवं रोकथाम के निर्देश जारी किए है।

यह भी पढ़े.. Bhopal News: भोपाल कलेक्टर का बड़ा फैसला, लगाया प्रतिबंध, आदेश जारी

भोपाल  कलेक्टर अविनाश लवानिया (Bhopal Collector Avinash Lavania)  का कहना है कि मौसम के बदलाव के कारण स्वाईन फ्लू सीजनल इन्फ्लूएन्जा (Swine flu season influenza) एच-1 एन-1 के प्रकरण होने की संभावना होती है, इसके चलते सतत सतर्क रहने एवं संभावित सीजनल इन्फ्लूएन्जा एच-1 एन-1 के मरीजों की स्क्रीनिंग, निदान, उपचार व रोकथाम के लिये दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए है।

भोपाल कलेक्टर(Bhopal Collector )ने कहा कि सीजनल इन्फ्लूएन्जा एच-1 एन-1 के रोकथाम व उपचार के लिये भारत शासन द्वारा दिये गये प्रोटोकॉल और गाइडलाइन (Protocol and Guidelines) का पालन व कार्यवाही करवाना सुनिश्चित करें। विशेषकर हाई रिस्क प्रकरणों जैसे कि बच्चों, गर्भवती महिलाओं, किसी भी घातक बीमारी से ग्रसित व्यक्ति के फ्लू होने पर अधिक सतर्क रहें एवं विशेष ध्यान दें तथा पूर्व में दिये गये निर्देशानुसार उपचार आरंभ करें।

जिला, ब्लॉक तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र स्तर पर होने वाली मासिक एवं साप्ताहिक बैठकों में समस्त स्वास्थ्य कर्मियों को सीजनल इन्फ्लूएन्जा (एच-1 एन-1) के रोकथाम एवं उपचार संबंधित जानकारी से अवगत कराया जाये।प्रतिदिन दो बार फीवर क्लीनिक (OPD) में सर्दी-खाँसी मरीजों की रिपोर्ट राज्य सर्विलेंस इकाई को भेजें तथा क्लीनिक में रिकार्ड कीपिंग के लिये पैरामेडिकल स्टॉफ की व्यवस्था की जाये, जिनके द्वारा स्क्रीनिंग में संधारण किया जाये, जिसके माध्यम से मरीजों का फॉलोअप किया जाना सुनिश्चित करें।

भोपाल कलेक्टर (Bhopal Collector) ने कहा कि मरीजों को सीजनल इन्फ्लूएन्जा (एच-1 एन-1) की जानकारी के लिये पेम्पलेट वितरित किये जायें।सीजनल इन्फ्लूएन्जा (एच-1 एन-1) के श्रेणी-B के मरीजों, जिनको टेबलेट ओसल्टामिविर दी गई हो, उनकी लाइन लिस्ट बनायें तथा कांटेक्ट सर्वे करें।जिले में जिन स्थानों से ARI के प्रकरण ज्यादा आ रहे हैं, वहाँ सर्वे करें।

भोपाल कलेक्टर (Bhopal Collector) ने कहा कि सीजनल इन्फ्लूएन्जा (एच-1 एन-1) के लिये औषधियाँ एवं सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करें। सीजनल इन्फ्लूएन्जा (एच-1 एन-1) के मरीजों का कांटेक्ट सर्वे कर एक्शन रिपोर्ट राज्य सर्विलेंस इकाई के ई-मेल आई.डी. swineflu.mp@gmail.com पर भेजना सुनिश्चित करें। इसके अतिरिक्त कोविड-19 की रोकथाम व बचाव के लिये जारी निर्देशों का कड़ाई से पालन करें।