नए साल से पहले मप्र सरकार का एक और बड़ा फैसला, गृह विभाग का आदेश जारी

पुलिस मुख्यालय के अधीन महिला अपराध विशेष प्रकोष्ठ का गठन किया गया था, जिसका नाम परिवर्तित कर अब महिला सुरक्षा शाखा कर दिया गया है।

मप्र शासन

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में पंचायत चुनाव (MP Panchayat Election 2021) से पहले नाम बदलने की कवायद जारी है।मप्र सरकार द्वारा कभी स्टेशन के तो कभी सड़क मार्ग के नाम बदले जा रहे है।अब महिला अपराध विशेष प्रकोष्ठ का नाम बदलकर महिला सुरक्षा शाखा कर दिया गया है।इस संबंध में गृह विभाग, मप्र शासन (Home Department) ने आदेश जारी कर दिए है।

यह भी पढ़े.. खुशखबरी: मध्य प्रदेश को केंद्र सरकार की एक और बड़ी सौगात, 305 करोड़ रूपये स्वीकृत

मध्यप्रदेश शासन (MP Government) गृह विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार महिला उत्पीड़न और अपराधों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए पुलिस मुख्यालय के अधीन महिला अपराध विशेष प्रकोष्ठ का गठन किया गया था, जिसका नाम परिवर्तित कर अब महिला सुरक्षा शाखा कर दिया गया है।बता दे कि इस शाखा का गठन महिलाओं संबंधित अपराधों की सुनवाई के लिए किया गया है, इसमें पुलिस अफसर भी महिलाएं होती है।

यह भी पढ़े.. BJP महिला मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति, स्थाई आमंत्रित एवं विशेष आमंत्रित सदस्यों की घोषणा, यहाँ देखें लिस्ट

बता दे कि इससे पहले मप्र सरकार द्वारा एक और बड़ा फैसला लिया गया है, जिसके तहत मध्य प्रदेश के इंदौर और भोपाल में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू की गई है। राज्य शासन द्वारा भोपाल और इंदौर में लागू की गई पुलिस आयुक्त प्रणाली के तहत भारतीय पुलिस सेवा, राज्य पुलिस सेवा के अधिकारियों के पद-स्थापना आदेश जारी कर दिये गये हैं। पुलिस आयुक्त प्रणाली के अंतर्गत भोपाल में  मकरन्द देऊस्कर (IPS) को और इंदौर में हरिनारायण चारी मिश्रा (IPS) को पुलिस आयुक्त पदस्थ किया गया है।

 

नए साल से पहले मप्र सरकार का एक और बड़ा फैसला, गृह विभाग का आदेश जारी