नगरीय निकाय चुनाव : महापौर की कुर्सी पर BJP-कांग्रेस की नजर, चर्चा में इन नेताओं के नाम

महापौर पद के लिये 2015 में 10,28,618 मतों में से मालिनी गौड़ बीजेपी ने 6,58,538 मत हासिल कर 64 फीसदी वोट हासिल कर कांग्रेस की अर्चना जायसवाल को 2,86,360 वोट से मात दी थी।

नगरीय निकाय चुनाव

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में नगरीय निकाय चुनाव (Urban body elections) पर अब सियासी पारा चढ़ेगा। हालांकि नगरीय निकाय के चुनावों की तारीखों का एलान भले ही न हुआ हो लेकिन आरक्षण की प्रक्रिया के बाद इंदौर में महापौर के पद को लेकर सियासी गलियारों में कई नेताओं के चेहरे पर चमक ला दी है।

दरअसल, इंदौर (Indore) में गहमा गहमी इसलिए बढ़ गई है क्योंकि इंदौर में महापौर (Indore Mayor) का पद अनारक्षित हो गया है। ऐसे में 20 साल पहले कांग्रेस (Congress) के महापौर की जीत को याद करते हुए कांग्रेस के कई दिग्गज ताल ठोंकने को तैयार है। पिछले चुनावों की बात करे तो प्रदेश को सबसे ज्यादा राजस्व देने वाली इंदौर नगर निगम (Indore Municipal Corporation) पर बीते 4 बार से बीजेपी के महापौर और परिषद पर भी बीजेपी (BJP) का ही कब्जा है। इंदौर में बीते 2 दशक में बीजेपी की ओर से कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya), उमा शशि शर्मा, कृष्णमुरारी मोघे और मालिनी गौड़ (Malini Gaur) महापौर रहे है। इनमे सबसे ज्यादा वोट प्रतिशत इंदौर विधायक मालिनी गौड़ ने पिछली दफा हासिल किया था। महापौर पद के लिये 2015 में 10,28,618 मतों में से मालिनी गौड़ बीजेपी ने 6,58,538 मत हासिल कर 64 फीसदी वोट हासिल कर कांग्रेस की अर्चना जायसवाल को 2,86,360 वोट से मात दी थी।

इधर, प्रदेश और केंद्र में सत्ता बीजेपी की है लिहाजा, इंदौर के महापौर पद को लेकर बीजेपी उत्साह से भरी है हालांकि ये चुनाव स्थानीय मुद्दों पर लड़े जाने है लिहाजा, सियासी गलियारों में प्रारंभिक तौर पर इस पद के दावेदारों के रूप में रमेश मेंदोला (Ramesh Mendola) और जीतू जिराती (Jeetu Jirati) का नाम सबसे आगे है वही संगठन पर मजबूत पकड़ वाले कृष्णमुरारी मोघे भी फिर से दावेदार बनाये जा सकते है इन नामो के अलावाकुशल नेतृत्वकर्ता और आईडीए के पूर्व अध्यक्ष मधु वर्मा के अलावा पूर्व नगर अध्यक्ष गोपीकृष्ण नेमा का नाम भी सामने आ रहा है। हालांकि, इन नामो मे किसी नाम पर मुहर लगेगी या नही ये तो बीजेपी संगठन तय करेगा।

वही, कांग्रेस के दिग्गज शहर के प्रथम नागरिक के पद के लिए होने वाले चुनाव के लिए तैयार है। ऐसे में राजनीतिक विश्लेषक और सियासी गलियारों से खबरे सामने आ रही है कि महापौर पद के लिए कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला (Congress MLA Sanjay Shukla) एक बड़ा नाम है वही शहर कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व पार्षद विनय बाकलीवाल (Vinay Bakliwal), पूर्व मंत्री और विधायक जीतू पटवारी (Jeetu Patwari), पूर्व विधायक अश्विन जोशी के अलावा सत्यनारायण पटेल या छोटु शुक्ला उम्मीदवार हो सकते है।

फिलहाल, ये सियासी गलियारों की चर्चाएं है जिनमें से 2 ऐसे नाम सामने आ सकते है जो एक दूसरे को आपस मे कड़ी और बडी टक्कर दे सकते है लेकिन अभी उम्मीदवारो के नाम पर कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी क्योंकि अंतिम फैसला दोनो ही प्रमुख दलों के संगठन से जुड़े बड़े नेता करेंगे।