BJP विधायक की आर पार, अलग राज्य के लिए ट्विटर पर वार

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। बीजेपी के विधायक नारायण त्रिपाठी (Narayan Tripathi) के सुर लगातार पार्टी और सरकार विरोधी होते जा रहे हैं। उन्होंने एक बार फिर अलग विंध्य प्रदेश की मांग दोहराई है और इसके लिए बाकायदा ट्विटर पर वार भी छेड़ दी है।

विंध्य को अलग प्रदेश बनाने की मांग कर रहे नारायण त्रिपाठी ने अब की बार ट्विटर पर अलग राज्य की मांग दोहराई है। उन्होंने कुछ आंकड़े देते हुए बताया है किस तरह से विंध्य ने मध्यप्रदेश में 2016-17 में प्रदेश की जीडीपी में अनुमानित 113852.38 करोड़ का योगदान दिया जिसमें खनन का अनुमानित योगदान 13771.72 करोड़, पशुपालन का अनुमानित योगदान 7361.87 करोड़ और कृषि क्षेत्र का अनुमानित योगदान 33600.60 करोड़ का रहा। नारायण त्रिपाठी ने आगे लिखा है कि विंध्य को इसके बदले पलायन करते शिक्षित बेरोजगार युवा, प्रदूषित जलवायु, मध्य प्रदेश में पिछड़ा क्षेत्र बनता विंध्य मिला। ट्वीटर में लिखा है “विंध्य मांगता है न्याय, हमारा विंध्य हमें लौटा दो” ट्वीटर में ऊपर विंध्य प्रदेश का मोनो भी बना है जिसमें एक शेर है।

नारायण त्रिपाठी पिछले कई दिनों से अलग विंध्य प्रदेश की मांग कर रहे हैं। इसके अलावा भी बिजली जैसे तमाम जन हितेषी मुद्दों पर सरकार को आड़े हाथों लेते रहे हैं। कुछ दिन पहले ही उन्होंने बिजली के मुद्दे पर राज्य सरकार को चेतावनी कहा था कि यदि सुधार नहीं किया गया तो हालत कांग्रेस सरकार जैसी होगी। बिजली की खराब हालत को लेकर वह बाकायदा मैहर में धरना भी दे चुके हैं। अब देखना यह लाजिमी होगा कि उनके तमाम विरोधी स्वरों के बाद में सरकार या बीजेपी उनके प्रति क्या रुख अपनाती है क्योंकि नारायण त्रिपाठी तो खुलकर अलग विंध्य प्रदेश के लिए मोर्चा खोल चुके हैं और उनके तेवर देखकर लगता नहीं कि वह अब पीछे हटेंगे।