CBSE 12th Board Exam : 12वीं की परीक्षा पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई 3 जून तक टली

supreme court

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। CBSE और ICSE कक्षा 12वीं बोर्ड परीक्षा को रद्द (12th board exam cancel) करने की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में सुनवाई 3 जून तक टल गई है। केंद्र ने अदालत से अंतिम निर्णय बताने के लिए लिए गुरूवार तक का समय मांगा। जस्टिस एएम खानविलकर और दिनेश माहेश्वरी की पीठ द्वारा आज हुई सुनवाई में केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि सरकार आने वाले कुछ दिनों में परीक्षा पर फैसला लेगी और गुरूवार तक की मोहलत मांगी। जिसके बाद सुनवाई 3 जून तक के लिए टाल दी गई।

आज से दिल्ली Unlock की ओर, इन राज्यों में लॉकडाउन बढ़ा

बता दें कि एडवोकेट ममता शर्मा द्वारा दायर याचिका में परीक्षा को टालने की जगह सीधा रद्द करने की मांग की गई है। इसके अलावा देश के छात्रों को परीक्षा रद्द करने की मांग में कांग्रेस सहित विपक्षी दल का साथ मिला है। याचिकाकर्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए कहा कि वर्तमान स्थिति में परीक्षा के आयोजन का हिसाब से ही नहीं है। अगर परीक्षा हुई भी तो परिणाम देर से आएंगे, जिसका असर छात्रों के भविष्य पड़ेगा। इसलिए परीक्षा रद्द करनी चाहिए और छात्रों को अंक देने का कोई अलग तरीका निकाला जाना चाहिए।

इससे पहले 300 छात्रों द्वारा चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (CJI) एनवी रमणा (N.V.Ramna) को भी पत्र लिखकर परीक्षा रद्द करने की मांग की गई थी। हालांकि इस मामले में MoU अधिकारी का कहना है कि अभी तक जो विकल्प और फीडबैक सामने आए हैं, उसे परीक्षा आयोजित किए जाने पर सहमति बन रही है लेकिन शिक्षा मंत्री द्वारा कहा गया  था कि 1 जून तक 12वीं की परीक्षा को लेकर अंतिम फैसले की घोषणा की जाएगी। अब इस मामले पर अगली सुनवाई 3 जून को होगी।