8 नवंबर को सीएम ने बुलाई बैठक, कलेक्टर-कमिश्नर होंगे शामिल, हो सकता है बड़ा फैसला

सामान्य प्रशासन विभाग, मप्र शासन (General Administration Department, MP Government) ने आदेश जारी कर दिया है। यह बैठक 8 नवंबर को 11 बजे रखी गई है, इसमें सभी जिलों के अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ेंगे।

सीएम शिवराज सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मप्र उपचुनाव के परिणाम और दिवाली के बाद एक बार फिर सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) बड़ी बैठक करने जा रहे है।सीएम शिवराज सिंह की अध्यक्षता में 8 नवंबर 2021 को कलेक्टर कमिश्नर की वीडियो कॉन्फ्रेन्स (Collector-Commissioner Video Conference) आयोजित की गई है। इस वीडियो कॉन्फ्रेन्स में कलेक्टर्स कमिश्नर्स एवं पुलिस अधीक्षक, पुलिस महानिरीक्षक जुड़ेंगे, जिनसे सीएम कामकाज का फीडबैक लेंगे औ व्यवस्थाओं की समीक्षा भी करेंगे।

यह भी पढ़े.. DA के साथ मिलेगा 3 महीने का एरियर, नवंबर में बढ़कर आएगी सैलरी! 1 करोड़ कर्मचारियों को होगा लाभ

इस बैठक को लेकर आज मध्यप्रदेश के 66वां स्थापना दिवस के अवसर पर सामान्य प्रशासन विभाग, मप्र शासन (General Administration Department, MP Government) ने आदेश जारी कर दिया है। यह बैठक 8 नवंबर को 11 बजे रखी गई है, इसमें सभी जिलों के अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ेंगे।सभी कलेक्टर कमिश्रर्स को तैयारी के साथ आने को कहा है और पिछली बैठक से अबतक के हुए कार्यों को फीडबैक के रुप में सीएमओ ऑफिस भेजने को कहा है। 1 लोकसभा और 3 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजों के बाद बुलाई गई इस बैठक को बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

इस बैठक में कोरोना-वैक्सीनेशन, शासकीय योजनाओं, किसानों, पंचायत चुनाव के साथ कानून व्यवस्था आदि मुद्दों को लेकर चर्चा की जा सकती है।  माना जा रहा है कि पिछली बैठकों की तरह इस बैठक में भी लापरवाह अधिकारियों कर्मचारियों पर गाज गिर सकती है।बैठक के पहले सभी अधिकारियों से अबतक के कामों की जानकारी मांगी गई है।

यह भी पढ़े.. VIDEO: जब ऊर्जा मंत्री को गंदगी देख आया गुस्सा और फिर हुआ ये

चुंकी सितंबर में हुई बैठक में शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा था कि मैं औचक निरीक्षण करूंगा। कुछ जगह अभी जनदर्शन में मैंने खामियां देखी हैं।पीएम आवास योजना में मुझे पता चला कि अधिकारियों ने लोगों से पैसे ले लिए। मैं ऐसे लोगों को छोडूंगा नहीं। अभी निलंबित कर जांच बैठा दी है। अब जनभागीदारी से चलेगी सरकार।आप नोट कर लीजिए- पात्र हितग्राही लाभ से वंचित नहीं होना चाहिए। आप सब पर्सनली देखें।1 से 15 नवम्बर को रेवेन्यू को लेकर राजस्व अभिलेखों का शुद्धिकरण का कार्यक्रम हम करेंगे।

8 नवंबर को सीएम ने बुलाई बैठक, कलेक्टर-कमिश्नर होंगे शामिल, हो सकता है बड़ा फैसला