औचक निरीक्षण पर निकले सीएम शिवराज, व्यवस्थाओं का लिया जायजा, दिए निर्देश

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बीते दिनों इंदौर में हुई घटना काफी शर्मसार करने वाली थी। अब ऐसी किसी घटना को मध्य प्रदेश बर्दाश्त नहीं करेगा।

सीएम शिवराज

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में बीजेपी (bjp) का दो दिवसीय प्रशिक्षण वर्ग आयोजित किया गया है। जिसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) शुक्रवार को उज्जैन (ujjain) में ही थे। इस दौरान उज्जैन कार्यक्रम की समाप्ति के बाद सीएम शिवराज (cm shivraj) इंदौर के लिए रवाना हुए। अचानक शुक्रवार को सीएम शिवराज ने इंदौर में रैन बसेरों का दौरा किया।

इस दौरान सीएम शिवराज ने मुसाफिरों से रैन बसेरों की व्यवस्थाओं की जानकारी ली। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुसाफिरों से पूछा कि रैन बसेरों की व्यवस्था कैसी है? समय पर खाना मिलता है या नहीं? मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बीते दिनों इंदौर में हुई घटना काफी शर्मसार करने वाली थी। अब ऐसी किसी घटना को मध्य प्रदेश बर्दाश्त नहीं करेगा।

Read More:  MP News: विभाग को 400 करोड़ रुपए का नुकसान, मंडियों से आय बढ़ाने सरकार कर रही विचार

सीएम शिवराज ने कहा कि ऐसे घटना के जिम्मेदार छोटे या बड़े स्तर के अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इंदौर में रात्रि विश्राम के दौरान सुखलिया, एमवाय अस्पताल और झाबुआ टावर समेत कई अन्य रैन बसेरों का भी जायजा लिया और उसका औचक निरीक्षण किया।

बता दें कि पिछले दिनों इंदौर में बुजुर्गों नगर निगम सीमा के बाहर छोड़ने का वीडियो वायरल किया गया था। जिसके बाद राज्य शासन ने निगम कर्मचारियों के अलावा कई अधिकारियों को भी निलंबित कर दिया था। इस घटना की पूरे देश में चर्चा हुई थी। जिसके बाद से रैन बसेरों का औचक निरीक्षण किया जा रहा है।