कोविड समीक्षा बैठक : वैक्सीनेशन को लेकर सीएम शिवराज ने दिए ये महत्वपूर्ण निर्देश

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। सोमवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोविड 19 को लेकर समीक्षा बैठक ली। मंत्रालय में हुई इस बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग मौजूद थे एवं यहां वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बात की। इस दौरान सीएम ने कहा कि हर हालत में कोरोना की तीसरी लहर को प्रदेश में आने से रोकना है। इसी के साथ उन्होने वैक्सीनेशन के कार्य को फिर से नई गति देने के निर्देश दिए।

स्वतंत्रता दिवस पर प्रदेशभर से 339 कैदियों को मिलेगी रिहाई, गृहमंत्री ने की ये अपील

मुख्यमंत्री ने कोरोना की स्थिति और वैक्सीनेशन कार्य की समीक्षा की। इस दौरान उन्होने अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसी भी जिले में कोरोना की टेस्टिंग कम न की जाए। इसी के साथ मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, सेनेटाइजर के प्रयोग सहित कोरोना से बचाव संबंधी सभी सावधानियों का पालन कराया जाए। प्रदेश में शत प्रतिशत पात्र जनसंख्या का वैक्सीनेशन कराया जाए। उन्होने कहा कि पहले टीके के बाद दूसरा टीका जरूर लगवाएं तभी संक्रमण से पूरी तरह बचाव हो सकेगा। सीएम ने बैठक में निर्देश दिए कि वैक्सीनेशन के काम को दोबारा गति दी जाए और इसके लिए महाअभियान भी चलाया जाए।

बता दें कि फिलहाल प्रदेश में कोरोना के 149 एक्टिव केस हैं और पिछले 24 घंटे में 10 नए केस सामने आए हैं। सीएम ने कहा कि इस सप्ताह नए प्रकरणों की संख्या 108 है जबकि उससे पहले सप्ताह में 106 व उससे भी पहले सप्ताह में 86 नए प्रकरण आए थे। इससे साबित होता है कि तीन सप्ताह में संक्रिमतों की संख्या में इजाफा हो रहा है और इसपर काबू पाना बेहद जरूरी है। फिलहाल प्रतिदिन कोरोना के लगभग 70 हजार टेस्ट हो रहे हैं। प्रदेश की पात्र जनसंख्या में से 53 प्रतिशत को कोरोना का पहला डोज लग चुका है वहीं 10 प्रतिशत को दूसरा डोज लगाया जा चुका है। इस तरह कुल 2 करोड़ 93 लाख लोगों को पहला डोज और 57 लाख लोगों को वैक्सीन का दूसरा डोज दिया जा चुका है।