सीएम शिवराज सिंह बोले- कर्फ्यू का सख्ती से पालन हो, गांवों में संक्रमण फैलने से रोकें

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण को समाप्त करने के लिए शहरों में कोविड केयर सेंटर और ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे किल कोरोना अभियान की नियमित समीक्षा प्रभारी मंत्री और प्रभारी अधिकारी सुनिश्चित करें।

CM शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने सीहोर, विदिशा और रायसेन की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि पॉजिटिविटी रेट कम किया जाए। कोरोना से बचाव के उपायों और कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण को रोकने के विशेष ध्यान दिया जाए। बुरहापुर में कोरोना संक्रमण नियंत्रित है। जिले में संक्रमण को जीरो स्तर पर लाया जाए। यह जिला प्रदेश के शेष जिलों के लिए मॉडल बने। यहाँ पर कोरोना कर्फ्यू को धीरे-धीरे खोलने के संबंध में भी विचार किया जा सकता है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: Tauktae ने पकड़ी रफ्तार, मप्र के इन संभागों में बारिश के आसार

सीएम निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना नियंत्रण के कोर ग्रुप के दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण को समाप्त करने के लिए शहरों में कोविड केयर सेंटर और ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे किल कोरोना अभियान की नियमित समीक्षा प्रभारी मंत्री और प्रभारी अधिकारी सुनिश्चित करें। ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना को फैलने से प्रभावी ढंग से रोकना है। इसके लिए ग्रामीणजनों का व्यापक सहयोग लिया जाए। ग्राम पंचायत में स्थानीय स्तर पर आपदा प्रबंधन कमेटी, जन-प्रतिनिधि, गाँव के वरिष्ठ नागरिक नियमित अंतराल में बैठक कर कोरोना संक्रमण की स्थिति, जन-जागरूकता बढ़ाने और संक्रमण को रोकने के लिए चर्चा करें और ग्रामीणों को जोड़ें।

यह भी पढ़े.. भोपाल समेत इन जिलों में बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू, कलेक्टर ने जारी किए आदेश

सीएम शिवराज सिंह चौहान कोरोना के लक्षणों वाले व्यक्तियों की जाँच की जाए। कोरोना टेस्टिंग बढ़ाई जाए। कोरोना पीड़ित व्यक्ति की मृत्यु न हो, इस कार्य योजना पर पूरी तत्परता से अमल किया जाए।ऐसे परिवार जिसमें कमाने वाले सदस्य की कोरोना की वजह से मृत्यु हो गई है और परिवार के बच्चे बेसहारा हो गए हैं। ऐसे परिवारों की सूची तत्काल तैयार की जाए और उन्हें राज्य शासन की पेंशन योजना का लाभ तुरंत पहुँचाना सुनिश्चित किया जाए।

ब्लैक फंगस पर विशेष फोकस

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ब्लैक फंगस से पीड़ित मरीजों के समाचार प्राप्त हो रहे हैं। सरकार इन सब मरीजों का नि:शुल्क इलाज कराएगी। । राज्य शासन के अधिकारी विशेषज्ञों से चर्चा कर इस बीमारी को शुरूआत में ही पहचानने और इलाज के तरीकों के संबंध में एडवाइजरी तैयार करें और जनता तक पहुँचाए। ब्लैक फंगस बीमारी के इलाज के लिए दवाईयों की कमी नहीं होने दी जाएगी। केन्द्र सरकार और दवा बनाने वाली कम्पनियों से इंजेक्शन की आपूर्ति के संबंध में चर्चा की है और शीघ्र ही आवश्यक दवाईयाँ उपलब्ध हो जाएंगी।

विभिन्न राज्यों के IAS-IPS अधिकारियों से चर्चा

इस दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय पुलिस सेवा (IPS) और भारतीय वन सेवा(IFS) के देश के विभिन्न स्थानों और विभागों में पदस्थ अधिकारियों से वर्चुअली चर्चा की और कहा कि आप दिल्ली और देश के अन्य राज्यों से कोरोना की रोकथाम के लिए मध्यप्रदेश से जुड़े हुए हैं। राज्य को आपकी क्षमता, प्रतिभा का पूरा उपयोग करना है। हम धीरे-धीरे कोविड को नियंत्रित कर रहे हैं। कल प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट घटकर 11.05 प्रतिशत हो गई है। नए केस भी लगातार कम होते जा रहे हैं।